द वाक फिल्म से मजदूरों के पलायन का दर्द दिखाएगी मुजफ्फरपुर के बाप-बेटे की जोड़ी

Smart News Team, Last updated: Mon, 31st Aug 2020, 10:44 PM IST
  • लॉकडाउन में पलायन कर रहे मजदूरों मजदूरों को जितने भी देखा उसका दिल पीड़ा से भर गया. अब रुपहले पर्दे पर इन मजदूरों पर एक फिल्म बनने जा रही है जिसका नाम है 'द वॉक'. नितिन कुमार गुप्ता द्वारा निर्देशित इस फिल्म में अभिनेता राहुल राय के साथ मुजफ्फरपुर के बाप और बेटे भी मुख्य भूमिका में है.
शूटिंग पर अभिनेता राहुल रॉय के साथ सौरभ और स्पर्श सुमन.

 मुज़फ्फरपुर. लॉकडाउन के समय में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों की स्थिति काफी दयनीय हो गई थी. देश के अधिकांश हिस्सों से पैदल पलायन करने वाले मजदूरों की दिल को झकझोर देने वाली तस्वीरें सामने आईं. अब इन मजदूरों पर एक फिल्म बनने जा रही है. इस फिल्म का नाम है 'द वॉक'. ख़ास बात यह है कि इस फिल्म में मुजफ्फरपुर के बाप और बेटी की जोड़ी अपने अभिनय कौशल से मजदूरों के पलायन का दर्द दिखाएंगे. मुजफ्फरपुर के बाप और बेटे की यह जोड़ी पहले से ही फिल्म इंडस्ट्री में अपने अभिनय से अपना जलवा लगातार बिखेर रही है.

शहर के सौरभ और उनके बेटे स्पर्श इस फिल्म में भी बाप और बेटे के रोल में ही नजर आएंगे. फिल्म की मुख्य भूमिका में राहुल रॉय, स्पर्श सुमन, सौरभ सुमन और रूपाली हैं. इस फिल्म के निर्देशक नितिन कुमार गुप्ता हैं.

मुजफ्फरपुर: PM मोदी ने 7 दिनों में बनवा दिया 500 बेड कोरोना अस्पताल, कल से इलाज

गौरतलब है कि द वाक फिल्म लॉकडाउन में बिहार सहित अन्य राज्यों से लौटने वाले मजदूरों के दर्द पर आधारित है. यह फिल्म अगले महीने रिलीज होगी. आपको बता दें कि इससे सौरभ ने दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के साथ पवित्र रिश्ता में भी काम किया है.

इस फिल्म में सौरव और उनका बेटा दोनों बाप बेटे के रूप में ही नजर आएंगे.

सौरभ सुमन शहर के कन्हौली खादी भंडार के निवासी हैं. हिंदुस्तान से बातचीत में उन्होंने बताया कि यह फिल्म माइग्रेंट वर्कर्स पर आधारित है. लॉकडाउन के दौरान माइग्रेंट्स वर्कर के साथ क्या-क्या हुआ. दिल्ली, मुंबई, पंजाब, गुजरात जैसे बड़े शहरों में काम करने वाले मजदूर लॉकडाउन में अपने घर कैसे पहुंचे, यह फिल्म उसी पर आधारित है. फिल्म की कहानी बड़ी दिलचस्प है और दिल को छू लेने वाली है.

मुजफ्फरपुर में 8 साल से बकाया अनुदान राशि को लेकर शिक्षकों का हल्ला बोल,प्रदर्शन

इसके साथ ही सौरभ ने बताया कि इस फिल्म में मैंने अपने बेटे के पिता का रोल किया है. फिल्म की शूटिंग हमने राजस्थान में की है क्योंकि लॉक डाउन की वजह से मुंबई में हमें शूट करने की अनुमति नहीं प्रदान की गई थी. जैसे ही डबिंग का काम पूरा हो जाएगा यह फिल्म रिलीज हो जाएगी.

सौरभ ने यह भी बताया कि वे 2006 से मुंबई फिल्म इंडस्ट्री जुड़े हैं. अपने शहर में पढ़ाई के साथ में इप्टा से जुड़े रहे. इसके बाद उन्होंने दिल्ली में थिएटर किया और उसके बाद वे मुंबई पहुंचे।

मुजफ्फरपुर में अनलॉक शुरू, 6 सितंबर से खुलेगा पं नेहरु स्टेडियम

इसके अलावा सौरभ ऑस्कर विनिंग फ़िल्म स्लमडॉग मिलेनियर में भी काम कर चुके हैं. सौरभ क्राइम पेट्रोल, सावधान इंडिया के साथ कई अन्य सीरियलों में भी काम कर रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें