मुजफ्फरपुर: लॉकडाउन उल्लंघन पर बरुराज पुलिस ने दुकानदार को बेरहमी से पीटा

Smart News Team, Last updated: 17/08/2020 10:34 PM IST
  • मुजफ्फरपुर के बरुराज थाने के फुलवरिया चौक पर पुलिस ने एक फल दुकानदार की बेरहमी से पिटाई कर दी. पिटाई के समय का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.
मुजफ्फरपुर लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस ने युवक को पीटा.

मुजफ्फरपुर. लॉकडाउन उल्लंघन के लिए बरुराज थाने के फुलवरिया चौक पर पुलिस ने एक फल दुकानदार की पिटाई कर दी. बेरहमी से पिटाई करते हुए पुलिस ने उसे अपने वैन में लाद दिया और लाठी से पीटती रही. इससे फल दुकानदार का एक हाथ टूट गया और सिर में भी चोटें आईं हैं. इस पूरी घटना का वहां मौजूद एक युवक ने मोबाइल से वीडियो बना लिया जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो का संज्ञान देते हुए मुजफ्फरपुर एसएसपी को इसकी जांच का आदेश दिया है। डीजीपी ने एसएसपी को दोषियों पर कारवाई के लिए भी निर्देश दिया है. पिटाई में घायल फल दुकानदार का नाम सुरेंद्र साह है. वह परसौनीनाथ का रहने वाला है. 

फुलवरिया चौक पर वह दो बेटों के साथ मिलकर फल की दुकान चलाता है. रोज की तरह ही अन्य फल दुकानदरों के साथ उसने भी अपनी दुकान खोली थी. इसी बीच बरुराज पुलिस पहुंची. लॉकडाउन नियम उल्लंघन के डर से अन्य दुकानदार जल्दी से अपनी दुकान बंद कर भाग गए. लेकिन सुरेंद्र भाग नहीं पाया और पुलिस ने उसे दबोच लिया. 

मुजफ्फरपुर: मंदिर की साफ-सफाई में हाईटेंशन करंट से एक की मौत, दो झुलसे

पुलिस ने लॉकडाउन में दुकान खोलने पर सवाल किया तो वह पुलिस से बहस करने लगा. इसी बीच पेट्रोलिंग पार्टी ने थाने में सूचना देकर अतिरिक्त फोर्स मंगा लिया. फिर पुलिस वाले दुकानदार की पिटाई करने लगे. वह चीखते-चिल्लाते छोड़ देने की गुहार लगाता रहा लेकिन पुलिस बेरहमी से डंडा बरसाती रही. 

मुजफ्फरपुर: गंडक नदी में तेज बहाव में डूब गया युवक, लोगों ने हाइवे जाम किया

चोटिल दुकानदार को मोतीपुर में भर्ती कराया गया है. इलाज के बाद फिलहाल वह पुलिस हिरासत में है. बरुराज थाने पर पहरेदारी सख्त कर दी गई है और उससे किसी को मिलने नहीं दिया जा रहा है. सुरेंद्र के साथ ही उसके बेटे को भी पुलिस ने हिरासत में ले रखा है. बरुराज पुलिस का कहना है कि फल दुकानदार ने पुलिस टीम पर हमला किया और पुलिस के काम में बाधा डाला. पुलिस ने अपने बचाव में लाठी चलाई.

फल दुकानदारों से झड़प में दरोगा शमशेर आलम, जमादार अखिलेश यादव, योगेंद्र सिंह और दो महिला पुलिसकर्मियों को भी चोट आई है. इन सबका इलाज भी मोतीपुर पीएचसी में कराया गया है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें