मुजफ्फरपुर: अररिया से दिल्ली ले जा रहे 10 बच्चे मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाए

Smart News Team, Last updated: 14/08/2020 10:47 AM IST
  • मुजफ्फरपुर में अररिया से दिल्ली ले जा रहे 10 बच्चे मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाए गए हैं. जिला प्रशासन और मुजफ्फरपुर पुलिस की टीम ने इन बच्चों को गुरुवार रात में छुड़ाया. इन्हें बस से ले जाया जा रहा था और दिल्ली से इन्हें अलग-अलग राज्यों में भेज दिया जाता.
मुजफ्फरपुर: अररिया से दिल्ला ले जा रहे 10 बच्चे मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाए

मुजफ्फरपुर. गुरुवार की रात मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन व पुलिस की संयुक्त टीम ने 10 बच्चे को मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाया. कांटी थाना के सदातपुर में इन बच्चों को मुक्त कराया गया. फिलहाल सभी को चाइल्ड लाइन भेज दिया गया है और काउंसिलिंग के बाद परिजन को सौंपा जाएगा. तस्कर बच्चों को एक बस से अररिया से दिल्ली ले जा रहे थे. जहां से सभी को अलग-अलग राज्यों में भेजने की तैयारी थी. दो तस्करों को भी पकड़ा गया है. उनसे पूछताछ की जा रही है.

कांटी थाने में मानव तस्करी को लेकर जिला प्रशासन की ओर से एफआईआर भी कराई गई है. पुलिस ने यूपी नंबर बस को भी जब्त कर लिया गया है. साथ ही चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक उदय कुमार झा ने 10 बच्चे को मुक्त कराने की पुष्टी की है. 

मुजफ्फरपुर: शव सड़क पर रखकर परिवार का हंगामा, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम

बस में करीब तीन दर्जन के करीब यात्री और 10 बच्चे थे. पूछताछ के क्रम में उन्होंने टीम को संतोष जनक जबाव नहीं दिया. इसके बाद टीम ने सभी को बस से उतारकर जांच पड़ताल शुरू की. इस दौरान दो तस्कर मो. मसूद और मो. अंसार को दबोच लिया. दोनों अररिया के बताए गए है. अन्य यात्रियों से भी टीम ने पूछताछ की और बाद में सभी को छोड़ा जाएगा.

मुजफ्फरपुर: कंटेनमेंट जोन के बाहर मिले 131 एक्टिव कोरोना संक्रमित केस, खतरा बढ़ा

पटना की एक संस्थान बचपन बचाओ के स्टेट को-ऑडिनेटर मनोज कुमार ने जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह को मानव तस्करी से संबंधित जानकारी दी थी. इसके बाद डीएम ने बाल संरक्षण पदाधिकारी उदय कुमार झा के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया. टीम ने चांदनी चौक से रेकी करना शुरू किया. सदातदपुर यादव चौक के पास उन्हें बस दिखी. टीम ने उसे रोकने का इशारा भी किया. लेकिन, चालक बस नहीं रोका. कांटी थानेदार कुंदन कुमार और सब-इंस्पेक्टर अभय कुमार ने उसका पीछा किया. छपरा स्थित एक पेट्रोल पंप के समीप बस को घेर कर रोका.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें