हथौड़ी थाना क्षेत्र में 55 साल की महिला से रेप, FIR नहीं लिख रही पुलिस

Smart News Team, Last updated: 17/10/2020 01:51 PM IST
  • गुरुवार देर शाम घर से शौच के लिए निकली महिला के साथ तीन लोगों ने उसे सुनसान जगह ले जाकर गलत काम किया, शिकायत करने पर भी पुलिस जांच की बात कहकर केस दर्ज नहीं कर रही
मुजफ्फरपुर में महिला के शिकायत करने पर पुलिस ने महिला को कस्टडी में रखा है

मुजफ्फरपुर. हथौड़ी थाना क्षेत्र में पड़ते एक गांव में 55 साल की अधेड़ उम्र की महिला के साथ गैंग रेप किया गया. महिला की ओर से पुलिस में शिकायत कर दी गई है. पुलिस को दी शिकायत में महिला ने बताया कि इस घटना को अपराधियों ने 15 अक्टूबर की शाम के वक्त अंजाम दिया. उसने बताया कि गुरुवार देर शाम वह घर से शौच के लिए निकली थी. घर से कुछ दूर जाते ही तीन व्यक्ति उसके सामने आ गए. तीनों ने उस पर धावा बोल दिया और एक ने उसका मुंह बंद कर दिया और बाकी दो हाथ पैर पकड़कर उसे उठाकर सुनसान जगह ले गए. जहां पर उन लोगों ने बारी-बारी से उसके साथ गलत काम किया और उसे जख्मी हालत में वहीं छोड़कर फरार हो गए. इस दौरान तीनों ने बदमाशों ने उसे धमकी भी दी कि घटना के बारे में किसी को शिकायत की तो वह उसे जान से मार देंगे.  

महिला ने शिकायत में बताया कि वह किसी तरह अपने घर पहुंची और घर के बाकी सदस्यों को इसके बारे में बताया. जब परिजन आरोपियों के जहां शिकायत करने गए तो उन लोगों ने मारपीट कर सभी को भगा दिया. इस संबंध में थाना प्रभारी विनोद दास ने कुछ भी बताने से इनकार किया है. मामले के बारे में जब महिला पंचायत प्रतिनिधियों से पूछा गया तो उनके मुताबिक मामला मारपीट का होने के बात कही गई. आवेदन की जांच करने गई महिला पदाधिकारी ने भी यह मामला जमीनी विवाद का होने की पुष्टि की है. खबर लिखे जाने तक पुलिस मामले की छानबीन कर रही थी और पीड़ित महिला को पुलिस की निगरानी में रखा गया है. 

अनलॉक-5: मुजफ्फरपुर में 7 महीने बाद नॉवेल्टी टेनिस कप चैम्पियनशिप शुरू

गौर हो कि चुनाव में एक तरफ जहां महिलाओं को उनका अधिकार दिलाने के दावे किए जाते हैं लेकिन गैंग रेप का शिकार हुई महिला की ओऱ से शिकायत करने के कई घंटों बाद तक भी पुलिस की ओऱ एफआईआर तक नहीं लिखी गई. यदि कानूनन देखा जाए तो थाना प्रभारी ऐसे केस में बिना कोई जांच किए केस दर्झ कर सकता है. इस मामले में ऐसा नहीं हुआ है. महिला पुलिस कस्टडी में है और पुलिस की ओऱ से जांच किए जाने की बात कही जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें