मुजफ्फरपुर: अहियापुर में शराब की भठ्ठियों पर रात भर ताबड़तोड़ छापेमारी

Smart News Team, Last updated: Fri, 25th Dec 2020, 11:51 AM IST
  • रात भर ताबड़तोड़ छापेमारी की, शराब नष्ट किया, आग लगाई, लहन फोड़ा और सूत्रों के हवाले से कुछ गिरफ्तारियां भी की जिसपर पुलिस अभी स्थिती कुछ साफ नहीं कर पा रही है. लेकीन देशी शराब कि भट्ठियों के मालिकों कि तालाश हो रही है.
मुजफ्फरपुर: अहियापुर में शराब की भठ्ठियों पर रात भर ताबड़तोड़ छापेमारी

मुजफ्फरपुर: हफ्तों से शहर में शराब की बड़ी खेप पकड़े जाने से बिहार पुलिस की किरकिरी होने पर वो बीती रात एक बार फिर हरकत में आई और अहियापुर थाना क्षेत्र के अकबरपुर और चतुरी पुनास गांव में शराब की भठ्ठियों पर रात भर ताबड़तोड़ छापेमारी की, शराब नष्ट किया, आग लगाई, लहन फोड़ा और सूत्रों के हवाले से कुछ गिरफ्तारियां भी की जिसपर पुलिस अभी स्थिती कुछ साफ नहीं कर पा रही है. लेकीन देशी शराब कि भट्ठियों के मालिकों कि तालाश ही रही है,

ये करवाई तब हो रही है जब बीते दिनों शहर में 350 लीटर बाहरी शराब के साथ 3 गाड़ियां पकड़ी गई थी. तभी से प्रशासन और हरकत में आया है. और जिले के अलग अलग हिस्सों में छापेमारी अभियान तेज़ कर दिया. इसी क्रम में अहियापुर थाना क्षेत्र के अकबरपुर और चतुरी पुनास गांव में शराब की भठ्ठियों पर रात भर ताबड़तोड़ छापेमारी की. और वहां से शराब बनाने वाले सभी उपकारों में या तो आग लगा दिया या तो साथ में बरामद कर के ले गए. पुलिस के मुताबिक वो शराब बनाने वालों के तालाश में कई जग छापेमारी कर रहे हैं. और कुछ कामयाबी भी हाथ लगी है. लेकीन जो बड़े अपराधी हैं उनकी तालाश जारी है.

बिहार शिक्षा गाइडलाइन: क्लास 9 से 12 तक स्कूल खुलेंगे, कॉलेज में लास्ट ईयर पढ़ाई

मालूम हो को की 1 अप्रैल 2016 बिहार में पूर्णत शराब बंदी लागू कर दी गई थी. लेकीन उसके बाद भी बिहार में तस्करों द्वारा पड़ोस के राज्यों से शराब उपलब्ध करा रहे हैं. आलम ये है कि बिहार चुनाव में कई जगह तो लोग नितीश कुमार का विरोध और उनके सुशासन को आईना दिखाने के लिए उनकी रैलियों में भी शराब की पाउच लेकर पहुंच गए थे.

बिहार गाइडलाइन: 4 जनवरी से स्कूल-कॉलेज खुलेंगे, आधे क्लास में, बाकी घर से पढ़ेंगे

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें