एडमिशन से चूके 3000 छात्र पड़ गए एक साथ बीमार! दाखिला का मौका दोबारा मिलने की उठाई मांग

Somya Sri, Last updated: Wed, 13th Oct 2021, 6:23 PM IST
  • बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर बिहार यूनिवर्सिटी में स्नातक के पार्ट वन में एडमिशन छूट जाने पर करीब 3000 छात्रों ने बीमारी का हवाला दिया है. इस संदर्भ में छात्रों ने डॉक्टर का पुर्जा भी विश्वविद्यालय को भेजा है. साथ ही ये मांग की है कि बीमार पड़ने की वजह से उनका दाखिला छूट गया. इसलिए दाखिला प्रोसेस दोबारा से शुरू की जाए. 
दाखिला से चूके 3000 छात्र पड़ गए एक साथ बीमार! एडमिशन का मौका दोबारा मिलने की उठाई मांग (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर: बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर बिहार यूनिवर्सिटी में स्नातक के पार्ट वन में एडमिशन छूट जाने पर करीब 3000 छात्रों ने बीमारी का हवाला दिया है. चौकानें वाली बात यह है कि सभी छात्रों ने बीमारी का ही हवाला दिया है. जिससे यह सवाल खड़े हो रहे हैं कि क्या 3000 बच्चें एक साथ बीमार पड़ गए. हालांकि इस संदर्भ में 3000 छात्रों ने डॉक्टर का पुर्जा भी विश्वविद्यालय को भेजा है. साथ ही ये मांग की है कि बीमार पड़ने की वजह से उनका दाखिला छूट गया. इसलिए दाखिला प्रोसेस दोबारा से शुरू की जाए. उन्होंने मांग की है कि उन्हें एडमिशन का सेकंड चांस मिले.

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के यूएमआईएस कोऑर्डिनेटर प्रोफेसर ललन कुमार झा ने बताया कि जिन छात्रों का दाखिला पहली लिस्ट में नहीं हुआ. वह दूसरी मेरिट लिस्ट के निकलने के बाद भी दाखिला लेने नहीं पहुंचे थे. दूसरी मेरिट लिस्ट में भी 6000 सीट खाली रह गई थी. हालांकि चार-पांच दिनों के बाद सभी विद्यार्थियों का लेटर आना शुरू हुआ कि वह बीमार पड़ गए थे. इस वजह से उनका दाखिला छूट गया. यूएमआईएस कोऑर्डिनेटर प्रोफेसर का कहना है कि एक साथ 3000 बच्चों के बीमार होने का लेटर और डॉक्टर का पुर्जा विश्विद्यालय को प्राप्त हुआ है. इन विद्यार्थियों ने मांग की है कि इन्हें दोबारा से दाखिला लेने के लिए मौका मिले.

मुजफ्फरपुर में पकड़ा गया शराब से भरा ट्रक, तस्कर फरार, ड्राइवर गिरफ्तार

प्रोफेसर ललन कुमार झा ने बताया है कि स्नातक की तीसरी लिस्ट भी निकाली जाएगी. जिसमें 33000 छात्रों का चयन किया गया है. इस मेरिट लिस्ट के निकलने के बाद 14 से 25 अक्टूबर तक दाखिला लिया जाएगा. इस मेरिट लिस्ट में पहली और दूसरी मेरिट लिस्ट में छूटे छात्रों को भी मौका दिया जाएगा. बता दें कि इस बार बिहार विश्वविद्यालय में 30 हजार सीटों पर स्नातक में दाखिला लिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें