'सर प्लीज पास करा दो, कॉल मी' परीक्षा कॉपी जांच रहे टीचर हैरान

Komal Sultaniya, Last updated: Tue, 1st Mar 2022, 10:37 PM IST
  • बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की पार्ट थ्री की परीक्षा की कॉपी जांचने के दौरान छात्रों के तरह-तरह के अनुरोध सामने आ रहे हैं. ऐसे अनुरोध से कॉपी जांचने वाले शिक्षक परेशान हो रहे हैं. छात्रों ने कॉपियों पर ऐसी-ऐसी बातें लिख दी हैं कि जिसे पढ़कर शिक्षक परेशान हो रहे हैं.
'सर प्लीज पास करा दो, कॉल मी' परीक्षा कॉपी जांच रहे टीचर हैरान

मुजफ्फरपुर. बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की पार्ट थ्री की परीक्षा की कॉपी जांचने के दौरान छात्रों के तरह-तरह के अनुरोध सामने आ रहे हैं. ऐसे अनुरोध से कॉपी जांचने वाले शिक्षक परेशान हो रहे हैं. छात्रों ने कॉपियों पर ऐसी-ऐसी बातें लिख दी हैं कि जिसे पढ़कर शिक्षक परेशान हो रहे हैं. छात्रों ने कॉपी पर अपने मोबाइल नंबर लिख दिये हैं. कॉपी में लिखा है कि सर आप कॉल करें, बाकी बात फोन पर होगी.

परीक्षकों ने बताया कि कॉपी पर छात्रों ने उत्तर कम और ऐसी फिजूल की बातें अधिक लिखी हैं. ऐसी बातें लिखने से उन्हें कोई फायदा नहीं होने वाला. कॉपी जांच रहे एक परीक्षक ने बताया कि एक कॉपी पर छात्र ने अपना नंबर लिख दिया था और लिखा था कि प्लीज कॉल मी. उसने कॉपी पर उत्तर भी सही से नहीं लिखे हैं. कई कॉपियों में ऐसी बातें मिल रही हैं. छात्रों ने इस बार परीक्षा मन से नहीं दी है.

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के मौके पर होनहार छात्रों को किया गया सम्मानित, दिया गया लैपटॉप

अर्थशास्त्र की कॉपी जांचने वाले एक शिक्षक ने बताया कि एक छात्र ने कॉपी पर लिखा है कि परीक्षा के दौरान उसकी आंख में काफी दर्द था, इसलिए वह तैयारी नहीं कर सका. परीक्षा में उसे पास कर दें, इसके लिए वह शिक्षक का उपकार नहीं भूलेगा. कुछ छात्रों ने लिखा है कि दो वर्ष कोरोना ने पढ़ाई को प्रभावित किया, स्मार्टफोन नहीं होने से ऑनलाइन क्लास भी नहीं कर सका. परीक्षा में फेल हुआ तो कहीं का नहीं रहूंगा. परीक्षकों ने बताया कि हर चौथे-पांचवें कॉपी में छात्रों की लिखी ऐसी बातें सामने आ रही हैं.

Sarkari Naukri 2022: 10वीं 12वीं और ग्रेजुएट के लिए इन विभागों में निकली सरकारी नौकरियां

पार्ट थ्री का रिजल्ट मार्च के दूसरे सप्ताह में आने की उम्मीद है. परीक्षा विभाग के अनुसार कॉपियों की जांच काफी तेजी से चल रही है. आधी कॉपियों की जांच पूरी हो चुकी है. कॉपियों की जांच होने के बाद रिजल्ट बनाने की तैयारी शुरू कर दी जायेगी. पार्ट थ्री में 55 हजार छात्रों ने परीक्षा दी है. कॉपियों की जांच के लिए इस बार कई परीक्षकों की पहली बार ड्यूटी लगायी गयी है. एक महिला परीक्षक ने बताया कि वह 1996 से विवि में और पहली बार कॉपी की जांच कर रही हैं. कॉपी जांचने के लिए 200 से अधिक परीक्षकों की ड्यूटी लगी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें