लगातार बढ़ी कीमतों के बाद मुजफ्फरपुर सर्राफा बाजार में लगा ब्रेक कीमतें थमी

Smart News Team, Last updated: 13/10/2020 12:26 PM IST
  • सहालगों का दौर शुरू होने वाला है इसके उपरांत ही मुजफ्फरपुर में सर्राफा बाजार की गति थम गई है. जिसके चलते कारोबारी परेशान दिखाई दे रहे हैं. सर्राफा बाजार में आई स्थिरता से कारोबारी चिंतित हैं.
मुजफ्फरपुर में सोना और चांदी के भाव में 13 अक्टूबर

13 अक्टूबर को मुजफ्फरपुर के सर्राफा बाजार में सोना व चांदी के भाव कल के ही रेट पर खुले. मुजफ्फरपुर में सोने व चांदी की कीमतों में बढ़ोतरी दर्ज नहीं हुई. जिससे कारोबारी हैरत में आ गए हैं. कारोबारियों के अनुसार दुर्गा पूजा व दीपावली का त्यौहार नजदीक आ रहा है. इस दौरान जब बाजार में तेजी आनी चाहिए तब सर्राफा बाजार पूरी तरह से थम गया है.

13 अक्टूबर को मुजफ्फरपुर में सोने के भाव प्रति 10 ग्राम 52260 पर जबकि 22 कैरेट सोने के दाम 47905 पर स्थित रहे. इसी प्रकार चांदी के दामों में भी कोई बढ़ोतरी दर्ज नहीं की गई और चांदी 66210 रुपये पर थम गई.

मुजफ्फरपुर में सर्राफा कारोबारियों की स्थिति इस समय नाजुक दिखाई दे रही है. इससे पूर्व सोने व चांदी के दामों में उछाल आया था मगर दो दिनों से सोने व चांदी की गति रुकी हुई है और बाजार में सन्नाटा फैल गया है. लगातार सोने व चांदी की मांग न होने से यह स्थिरता देखने को मिली. निवेशकों की माने तो मुजफ्फरपुर की स्थिति देखते हुए अनुमान लगाया जा सकता है कि सोने के भाव अभी और गिर सकते हैं. उनके अनुसार जिस प्रकार बाजार में लगातार स्थिरता देखी जा रही है उससे यह प्रतीत हो रहा है कि आगामी आने वाले दिनों में भी सोने के भाव निचले स्तर पर पहुंच जाएंगे. 

इसके अलावा मुजफ्फरपुर में सब्जी के दामों में तेजी आनी शुरू हो गई है. किसानों के अनुसार मौसम की मार ने उन्हें इस बार बर्बाद कर दिया है. जिसका परिणाम है कि सब्जी के भाव दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें