पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के नाम पर फर्जी तरीके से चंदा उगाही करने वाला गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 15/08/2020 11:48 AM IST
  • बिहार के मुजफ्फरपुर से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम पर हाईटेक तरीके से चंदा उगाही करने वाले एक युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तार सोमेश्वर सिंह इंस्टाग्राम पर फर्जी आईडी बनाकर चंदा उगाही करता था. पेटीम के माध्यम से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम पर लोगों से चंदा मांगा करता था.
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के नाम पर फर्जी तरीके से चंदा उगाही करने वाला गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम पर हाईटेक तरीके से चंदा उगाही करने के मामले में एक युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तार सोमेश्वर सिंह ने इसके लिए इंस्टाग्राम पर फर्जी आईडी बनाया और पेटीम के माध्यम से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम पर लोगों से चंदा मांगा करता था. जब सायबर सेल को इसके बारे में जानकारी हुई तो युवक को स्थानीय पुलिस की मदद से मुज्जफरपुर से गिरफ्तार किया गया.

गुरुवार को बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को इस जालसाजी के बारे में जानकारी हुई. बिहार डीजीपी को पता चला कि कोई शख्स पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम पर जालसाजी कर रहा है. सोशल मीडिया प्लेटफार्म इंस्टाग्राम पर उनके नाम पर फर्जी प्रोफाइल बना कर लोगों से चंदा उगाही कर रहा है. फिर बिहार डीजीपी ने इस मामले को ईओयू के सायबर सेल को सौंप दिया. 

मुजफ्फरपुर के मनियारी से पकड़ा साढ़े 37 लाख रुपए का गांजा, तीन गिरफ्तार

जांच में पता चला कि वह शख्स इंस्टाग्राम पर फर्जी नंबर दिए हुए था. यह नंबर मुजफ्फरपुर की रहने वाली पूनम सिंह था. लेकिन, इस नंबर से खाता लिंक सोमेश्वर के नाम से था. यह बैंक खाता भी मुज्जफरपुर जिले के ही कोटक महिंद्रा ब्रांच का था. शुक्रवार को साइबर सेल की मदद से स्थानीय पुलिस ने सोमेश्वर को गिरफ्तार कर लिया. उस पर आईटी एक्ट लगाया गया है.

मुजफ्फरपुर के उत्पाद निरीक्षक अभय सिंह की मौत, सुबह मॉर्निंग वॉक पर भी गए थे

गिरफ्तार सोमेश्वर सिंह ने बताया कि वह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से काफी प्रभावित है. उसने करीब डेढ़ साल पहले इंस्टाग्राम पर प्रोफ़ाइल बनाया था. पुलिस से पूछताछ में उसने बताया कि वह देहरादून से कृषि कोर्स की पढ़ाई कर रहा है. इस बात की जांच हो रही है कि उसने अब तक कितने लोगों से चंदा उगाही की हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें