दरभंगा पुलिस की पिटाई से मुजफ्फरपुर के ऑटो चालक की मौत, परिजनों का हंगामा

Smart News Team, Last updated: 03/09/2020 06:20 PM IST
  • मुजफ्फरपुर के कुढ़नी के रहने वाले ऑटो चालक पंकज महतो के मौत के बाद परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि उसकी मौत दरभंगा पुलिस की पिटाई से हुई है. दरभंगा पुलिस पंकज को पिकअप लूट के मामले में पुछताछ के लिए ले गयी थी.
रोते-बिलखते परिजन

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर में गुरुवार को पुलिस कस्टडी में कुढ़नी के रहने वाले ऑटो चालक पंकज महतो की मौत का आरोप लगाते हुए गुस्साए परिजनों ने थाने पर जमकर हंगामा किया. घर वालों का आरोप है कि दरभंगा पुलिस की पिटाई से पंकज की मौत हुई है. इस पर गुस्साए परिजनों के साथ गांव के दर्जन भर से ज्यादा पुरुष और महिलाएं पहुंच गई. कुढ़ना थाने के थानेदार ने परिवार वालों को उचित कारवाई का आश्वासन दिया. थानेदार ने पीड़ित परिवार से इस मामले में आवेदन मांगा है. हालांकि पीड़ित परिवार वालों ने शाम तक आवेदन नहीं किया. 

मुजफ्फरपुर: गोपालपुर गांव व NH-77 के पास फेंके मिले राशन कार्ड आवेदकों के फार्म

उधर दरभंगा के एसएसपी बाबू राम ने पिटाई की बात से साफ इंकार कर दिया है. उन्होंने कहा है कि युवक की मौत किडनी व लीवर के बिमारी से हुई है. एसएसपी ने कहा कि इससे संबंधित दस्तावेज भी उनके पास है. दूसरी तरफ परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. वहीं, पत्नी बार-बार बेहोश हो जा रही है.

मुजफ्फरपुर: कम्युनिस्ट नेता अशोक कुमार सिंह को लाल सलाम के साथ अंतिम विदाई

जानकारी के मुताबिक पिछले सोमवार को पिकअप लूट के मामले में दरभंगा के सिमरी थाने की पुलिस महेश महतो के बेटे पंकज महतो को पूछताछ के लिए दरभंगा ले गयी थी. इस दौरान एक सितंबर को उसकी तबीयत बिगड़ने लगी जिस पर सिमरी थाने की पुलिस ने उसे डीएमसीएच के मेडिसिन विभाग में भर्ती कराया. वहां से उसके परिजन बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच ले कर आ गए. जहां गुरुवार की सुबह ही पंकज की मौत हो गई. पंकज के मौत की जानकारी मिलते ही कुढ़नी गांव के लोग आक्रोशित हो गए. गांव के लोग कुढ़नी पुलिस और दरभंगा पुलिस पर कस्टडी में पिटाई से मौत होने का आरोप लगाने लगे. इसे लेकर गांव वालों ने कुढ़नी थाने पर जमकर हंगामा भी किया. आखिर में कुढ़नी थानेदार के आश्वासन पर मामला शांत हुआ. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें