दीघरा अपहरणकांड की जांच में सुराग खोज रही पुलिस, गुत्थी सुलझाने में जुटी

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 10:10 AM IST
  • दीघरा कांड की गुत्थी सुलझाने में लगी पुलिस हरसंभव कोशिश कर रही है. मामले में छोटी-छोटी बातों के माध्यम से पुलिस सुराग का पता लगा रही है. इसके संबंध में सदर थानेदार को पांच बिंदुओं पर जांच करने को कहा गया है.
दीघरा कांड की गुत्थी सुलझाने में लगी पुलिस.

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर में हुए दीघरा कांड की गुत्थी सुलझाने में लगी पुलिस हरसंभव कोशिश कर रही है. एसएसपी ने जांच कर रही टीम को निर्देश दिया कि  कोई भी ऐसी बात जो जांच के दौरान सामने आई हो. वह मामले में अहम साबित हो सकता है. उसे हल्के में नहीं लें. बारीकी से जांच करें और जहां भी संदेह हो, वरिष्ठ अधिकारी को सूचित करें. इस मामले में छोटी-छोटी बातों के माध्यम से ही सुराग का पता लगाया जा सकता है. 

सदर थानेदार को पांच बिंदुओं पर जांच करने को कहा गया है. इसमें पिछले एक सप्ताह की कॉल डिटेल खंगालना. साथ ही अपराधियों के भागने और छुपने के सभी संभावित इलाकों में सीसीटीवी कैमरा खंगालने का भी निर्देश दिया गया है.

पुलिस सर्विलांस टीम ने दो दर्जन से ज्यादा लोगों के मोबाइल नंबर को रडार पर रखा हैं. जानकारी के अनुसार रडार में संदिग्धों, परिजनों और दोस्तों के भी नंबर शामिल हैं.  इस मामले में मुख्यालय स्तर पर भी मॉनिटरिंग हो रही है.

मुजफ्फरपुर में पिता के नाजायज संबंधों ने ले ली 12 साल के मासूम की जान

गौरतलब है कि 4 सितंबर को मुजफ्फरपुर के दीघरा गांव में डकैती के दौरान किशोरी का अपहरण करने की वारदात हुई थी. जानकारी के अनुसार गांव के किराना व्यवसायी शंभू नाथ पांडे के घर पर 4 सितंबर की रात में 5 बदमाश घुस आए थे. 

मुजफ्फरपुर डकैती और अपहरण मामले में सुराग खोजने FSL टीम घर पहुंची, एक हुआ अरेस्ट

बदमाशों ने घर में आकर डकैती की. उस दौरान बदमाशों ने घर में रखे महंगे जेवरात,सामान लूट लिए.  व्यवसायी शंभू नाथ पांडे की बेटी को बदमाशों ने अपहरण भी कर लिया. इस दौरान जब शंभू नाथ ने विरोध किया तो बदमाशों ने उन्हें पीटा  भी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें