संपत्ति हड़पने को पति ने महिला डॉक्टर को कुर्सी से बांधकर बेरहमी से पीटा, अब घर नहीं लौटना चाहती पीड़िता

Smart News Team, Last updated: Mon, 23rd Aug 2021, 6:45 PM IST
  • मुजफ्फरपुर में महिला डॉक्टर के पति ने पीड़िता की कुर्सी से बांधकर बेरहमी से पिटाई की. ड्राईवर ने महिला को जुरन छपरा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टर की हालत गंभीर बनी हुई है. फरार आरोपी की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है. महिला का आरोप है कि पति संपत्ति हड़पने के लिए डॉक्टर के साथ आए दिन मारपीट करता था.
संपत्ति हड़पने को पति ने महिला डॉक्टर को कुर्सी से बांधकर बेरहमी से पीटा, अब घर नहीं लौटना चाहती पीड़िता 

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर के सारण सदर अस्पताल की डॉक्टर अनामिका को पति ने अस्पताल में कुर्सी से बांधकर बेरहमी से पीटा. इतना ही नहीं आरोपी पति, डॉक्टर को तब तक पीटता रह जब तक वह बेहोश नहीं हो गई. बुरी तरह से घायल डॉक्टर अनामिका को उनके ड्राइवर ने जुरन छपरा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया है जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. पीड़ित डॉक्टर के मामा ने काजी मोहम्मदपुर थाने में एफआईआर दर्ज करा दी है. फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

डॉक्टर अनामिका की शादी 16 साल पहले धर्मशाला पान मंडी निवासी शैलेश रंजन से हुई थी. दोनों की एक बेटी भी है. पति के अत्याचार की वजह से वह माड़ीपुर स्थित अपने मायके में रह रही हैं. डॉक्टर अनामिका की संपत्ति हथियाने के लिए आरोपी आये दिन उन्हें प्रताड़ित करता है. पुलिस को दिए अपने बयान में डॉ अनामिका के मामा अमित कुमार ने बताया कि 17 अगस्त रात 11 बजे उनकी भांजी डॉ अनामिका ने कॉल कर बताया कि शैलेश उसे बुरी तरह से पीट रहा है. वह अपने एक परिचित के साथ घर पहुंचे. उन्होंने दरवाजा खोलने के लिए आवाज लगाई. आवाज सुनकर शैलेश ने गालियां देनी शुरू कर दी. धमकाते हुए बोला कि भाग जाओ नहीं तो तुमको भी मार देंगे. 

ISRO-LPSC में ड्राईवर, फायरमैन व अन्य पदों पर बंपर भर्ती, 10वीं पास कर सकते हैं आवेदन

किसी तरह समझाकर मामा ने दरवाजा खुलवाया. दरवाजा खोलते ही शैलेश दूसरे कमरे में चला गया. रोने की आवाज सुनकर जब वह भांजी के कमरे में गए तो देखा कि अनामिका फर्श पर पड़ी है. फिर दोनों को समझाकर वह अपने घर चले आए. अनामिका ने कई बार मामा को फोन पर संपत्ति के लिए जानलेवा हमले के बारे बताया है. बता दें कि मारपीट की शिकायत पहले भी काजी मोहम्मदपुर थाने में की गई थी लेकिन तब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की थी.

मामा अमित के अनुसार 19 अगस्त को कार ड्राइवर ने फोन करके बताया कि पति शैलेश अस्पताल पहुंचकर मैड़म को कुर्सी से बांधकर मारा है. बेहोशी की हालत में ड्राइवर ने भांजी को अस्पताल में भर्ती कराया. आईसीयू में भर्ती अनामिका की हालत नाजुक बनी हुई है. आरोपी पति बेहतर इलाज का हवाला देकर अस्पताल प्रबंधन से डिस्चार्ज करने का दबाव बना रहा था. पति को गिरफ्तार करने के लिए जब पुलिस अस्पताल पहुंची तो आरोप चकमा देकर भाग गया. एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि घटना की छानबीन तेजी से की जा रही है, जल्द ही आरोपी पकड़ा जाएगा. शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला है कि डॉ अनामिका के माता-पिता की मौत कोरोना काल के दौरान हो चुकी है. पति शैलेश की बुरी नजर ससुराल की संपत्ति पर है. इसे हथियाने के लिए वह पत्नी के साथ हमेशा बर्बर तरीके से मारपीट करता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें