मुजफ्फरपुर नगर निगम: कर्मचारी संघ के संरक्षक ने दिया इस्तीफा, जाने पूरा मामला

Smart News Team, Last updated: 03/03/2021 01:35 PM IST
  • मुजफ्फरपुर नगर निगम के एक दर्जन कर्मचारियों के कामों में फेरबदल के बाद निगम में गर्मा-गर्मी का माहौल आ गया है. जिसमें निगम कर्मचारी संघ फंसा दिख रहा है. इसके बाद संघ के संरक्षक ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. 
मुजफ्फरपुर नगर निगम.

मुजफ्फरपुर नगर निगम में कुर्सी के फेरबदल की घटना के बाद नगर निगम कर्मचारी संघ के संरक्षक विजय कुमार श्रीवास्तव ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. दरअसल तीन दिन पहले निगम के एक दर्जन कर्मचारियों के कामों में अदला-बदली हुई थी. लेकिन इस फेरबदल के बाद निगम में गर्मा-गर्मी का माहौल आ गया है. इस पूरे मामले में कर्मचारी संघ फंसा हुआ दिख रहा है.

इस मामले में अधिकारियों के आदेश के साथ छेड़छाड़ की गयी है. इसके साथ ही अधिकारियों के आदेश के खिलाफ एक कर्मचारी को फायदा पहुंचाने की भी कोशिश की गयी है. इसके अलावा कुर्सी के इस फेरबदल का पत्र स्थापना शाखा की जगह किसी अन्य शाखा से निकाला गया. जिसके बाद नगर निगम के अधिकारियों ने इस गड़बड़ियों को दूर करने की कोशिश की. इसके बावजूद संघ के पदाधिकारियों में भिड़ंत हो गयी.

जिला सीनियर क्रिकेट लीग में डिस्ट्रिक्ट एकेडमी ने बबलू इलेवन एकेडमी को 138 रनों से हराया

इस मामले में संघ के संरक्षक ने इस्तीफा देने के साथ ही उन्होंने संघ के पदाधिकारियों के खिलाफ कई आरोप भी लगाए है. इसके अलावा उन्होंने पदाधिकारियों को उनकी पोल खोलने की चेतावनी भी दी है. इस फेरबदल की घटना से महापौर सुरेश कुमार भी नाराज है. उन्होंने इस तबादले में फिर से अपनी अनदेखी का आरोप लगाया.

पटना में ऑटो का सफर महंगा, दोगुना हुए दाम, देखें किराए की नई रेट लिस्ट

इसके अलावा कर्मचारी संघ की टिप्पणी पर अधिकारियों ने अपनी नाराज़गी जतायी है. दरअसल दो दिन पहले नगर आयुक्त और निगम कर्मचारियों के बीच मांगों को लेकर समझौता हुआ था. जिसके बाद निगम के उप नगर आयुक्तों और सिटी मैनेजर को मांग पत्र में कर्मचारियों ने तथाकथित कहा था. जिस पर अधिकारियों ने संघ पर नाराजगी जताते हुए उनसे जबाव मांगा था कि जब उनकी नियुक्ति सरकार ने की है तो वे सब तथाकथित कैसे हो गये.

ट्रैफिक नियमों की अनदेखी सड़क हादसों का बड़ा कारण

मुजफ्फरपुर सर्राफा बाजार में सोने में 430 रुपए कमी व चांदी में 170 रुपए आया उछाल

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें