मुजफ्फरपुर नगर निगम मेयर सुरेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव असंवैधानिक करार, पद पर रहेंगे बरकरार

Somya Sri, Last updated: Sat, 9th Oct 2021, 12:20 PM IST
  • मुजफ्फरपुर नगर निगम के महापौर सुरेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को असंवैधानिक घोषित कर दिया गया है. अब वो पद पर बरकरार रहेंगे. नगर विकास विभाग ने अविश्वास प्रस्ताव की बैठक के लिए विधिक प्रक्रिया नहीं अपनाने को लेकर नगर आयुक्त से स्पष्टीकरण मांगने का भी निर्देश दिया है.
मुजफ्फरपुर नगर निगम मेयर सुरेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव असंवैधानिक करार, पद पर रहेंगे बरकरार (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर: मुजफ्फरपुर नगर निगम के महापौर सुरेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को असंवैधानिक घोषित कर दिया गया है. नगर विकास विभाग ने मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को अवैध घोषित करते हुए उन्हें पद पर बरकरार रहने को कहा है. इसके साथ ही नगर विकास विभाग ने अविश्वास प्रस्ताव की बैठक के लिए विधिक प्रक्रिया नहीं अपनाने को लेकर नगर आयुक्त से स्पष्टीकरण मांगने का भी निर्देश दिया है.

गौरतलब है कि 24 जुलाई को महापौर सुरेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था. इस प्रस्ताव के पक्ष में 31 और विरोध में 8 वोट पड़े थे. हालांकि नगर विकास विभाग ने अविश्वास प्रस्ताव को असंवैधानिक करार देते हुए सुरेश कुमार को पद पर बरकरार रहने को कहा है. नगरपालिका प्रशासन निदेशालय के अवर सचिव राम सेवक प्रसाद ने इसके लिए डीएम को पत्र भेजा है. पत्र में उन्होंने राज्य निर्वाचन आयोग के निर्णय का हवाला देते हुए कहा है कि अविश्वास प्रस्ताव के लिए आयोजित बैठक की प्रक्रिया त्रुटिपूर्ण थी. इसमें बिहार नगरपालिका अधिनियम की धारा 49 की अवहेलना की गई.

मुजफ्फरपुर में पिस्तौल स्कूल ले जाने वाला 16 वर्षीय छात्र हिरासत में, पूछताछ जारी

अवर सचिव ने लिखा है कि, "इस स्थिति में तत्कालीन मेयर के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पारित नहीं माना जा सकता. इसलिए वर्तमान में सुरेश कुमार द्वारा ही मेयर पद के दायित्वों का निर्वहन किया जाना विधिसम्मत है. हालांकि उन्होंने कहा है कि नए सिरे से अविश्वास प्रस्ताव की विशेष बैठक के लिए विधिवत प्रक्रिया की जा सकती है."

वहीं इस मामले में जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने कहा है कि," नगर विकास विभाग का पत्र मिल गया है. नगर निगम को इस संदर्भ में संसूचित किया जाएगा. पार्षद चाहें तो दोबारा अविश्वास प्रस्ताव ला सकते हैं. तब तक मेयर पद पर सुरेश कुमार बने रहेंगे."

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें