मुजफ्फरपुर: टूटे बाँध के कटाव रोकने में जुटा इंजीनियरों का दल

Smart News Team, Last updated: 06/08/2020 06:52 PM IST
  • मुजफ्फरपुर के मुरौल प्रखंड के महमदपुर कोठी तिरहुत नहर के टूटे बाँध के समीप इंजीनियरों का दल कैंप कर कटाव रोकने को युद्धस्तर प्रयास कर रहा है
बाढ़ से टूटे बाँध की मरम्मत करते हुए 

मुजफ्फरपुर : मुरौल प्रखंड के महमदपुर कोठी तिरहुत नहर के टूटे बाँध के समीप इंजीनियरों का दल कैंप कर कटाव रोकने को युद्धस्तर प्रयास कर रहा है। कटाव स्थल पर जल संसाधन विभाग के मुख्य इंजीनियर कुमार जयंत प्रसाद ने बताया कि मुख्य सचिव का स्पष्ट आदेश है कि कटाव को किसी हाल में रोका जाए।

कटाव स्थल पर बास- बाली, मिट्टी का बोरा, बोल्डर सहित अन्य सामग्री का उपयोग किया जा रहा है। इस कार्य में ग्रामीणों का भी काफी सहयोग मिल रहा है। अधिकारियों ने बताया कि बूढ़ी गंडक बाँध में ही बाढ़ से निपटने के बाद एक स्लूस गेट देने का प्रस्ताव दिया जाएगा जिस कारण इस पार व उस पार की समस्या ही समाप्त हो जाएगी। मौके पर पूर्व प्रमुख पवन कुमार, संवेदक नलिनी रंजन सहित ग्रामीण कटाव को रोकने में सहयोग कर रहे हैं।

दूसरी तरफ जनपद के पारू प्रखंड की रघुनाथपुर पंचायत के सखरा, विषरपट्टी, रघुनाथपुर समेत अन्य गावों के करीब तीन हजार घरों में बाढ़ का पानी घुसने से सैकड़ों परिवार बेघर हो गए हैं। पंचायत से प्रखंड मुख्यालय जाने के रास्ते बंद होने से लोग परेशान हैं। मुखिया बैद्यनाथ राय ने सीओ ललित कुमार सिंह को स्थिति से अवगत कराते हुए अविलंब राहत शिविर खोलने की माँग की है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें