मुजफ्फरपुर: कमरा मोहल्ला में शव दफनाने पर दो पक्ष में तनाव, मारपीट, पुलिस तैनात

Smart News Team, Last updated: 21/08/2020 08:29 PM IST
  • मुजफ्फरपुर के कमरा मोहल्ला में कब्र खोदने को लेकर हिंसक झड़प हुई. इसमें झड़प में शामिल दोनों पक्षों के कई लोग घायल हो गए. दोनों पक्ष अपनी बातों पर अड़े रहे जिस कारण विवाद बढ़ा. 
मुजफ्फरपुर: कमरा मोहल्ला में कब्र खोदने को लेकर हिंसक झड़प, कई घायल

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर के कमरा मोहल्ला में कब्र खोदने को लेकर शुक्रवार की सुबह आठ बजे दो पक्ष में हिंसक झड़प हो गई. जिसके बाद विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों पक्षों के कई लोग इसमें घायल हो गए. वहीं मिठनपुरा पुलिस और डीएसपी राम नरेश ने आकर विवाद को शांत कराने का प्रयास किया. मोहल्ले में तनाव बरकरार है.

दरअसल कमरा मोहल्ला में एक पक्ष कब्र खोदकर शव दफन करने को लेकर अड़ा रहा. इस पर दूसरे पक्ष ने विरोध किया. वो शव दफन नहीं करने को लेकर अड़े रहे. दोनों अपने पक्ष पर रहे इस कारण विवाद बढ़ गया और मामला हिंसक हो गया.

दोनों पक्ष से दर्जनों समर्थकों ने एक दूसरे पर पत्थरबाजी शुरु कर दी. झड़प की जानकारी नगर थाने व सिकंदरपुर ओपी की पुलिस को दी गई तो दोनों जगह से पुलिस मौके पर पहुंची. फिर भी बवाल नहीं थमा. पत्थरबाजी बढ़ती रही और तो मिठनपुरा थाने की पुलिस को बुलाया गया.

मुजफ्फरपुर: पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने घर आ रहे पुत्र की हादसे में मौत

मिठनपुरा थाने की पुलिस के साथ एसडीओ पूर्वी डॉ. कुंदन कुमार व नगर डीएसपी राम नरेश पासवान भी मौके पर पहुंचे. सभी ने दोनों पक्षों को समझने का प्रयास किया. लेकिन सुबह आठ बजे से शुरू झड़प दोपहर तक जारी रही क्योंकि दोनों पक्ष अपनी अपनी मांगों को लेकर अड़े रहे. इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती कर दी गई. 

मुजफ्फरपुर के कमरा मोहल्ला में कब्र खोदने को लेकर विवाद छिड़ गया है.
लोगों को समझाते प्रशासन अधिकारी

मुजफ्फरपुर मातृत्व लाभ बिचौलिया घोटाला: 65 साल की औरत, 18 महीने में 8 बच्चे पैदा

हिंसक झड़प में घायल सभी को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा गया. पुलिस ने बताया कि तकी खां के वंसज जफर आलम का गुरुवार की देर रात निधन हो गया. उन्हें दफनाने के लिए शुक्रवार की सुबह उनके परिजनों ने कमरा मोहल्ला इमामबाड़ा के पास की एक जमीन पर कब्र खोदी जिसका सैयद मो काजिम शबीब ने अपने समर्थकों के साथ विरोध किया. इसी विरोध के बाद झड़प शुरू हुई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें