मुजफ्फरपुर: अब सुपर तत्काल एप से की जा रही ट्रेन टिकट की दलाली

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 11:21 PM IST
रेड मिर्ची सहित विभिन्न ऐप जैसे अब सुपर तत्काल ऐप के जरिए रेल टिकट की सेंधमारी करने वाले गिरोह 40 सेकंड में ही आरक्षित बोगियों की टिकटें बुक कर लेते हैं।इसको लेकर संचालक विद्यानंद गुप्ता को आरपीएफ ने गिरफ्तार किया है।
अब सुपर तत्काल एप से की जा रही ट्रेन टिकट की दलाली

मुजफ्फरपुर: एक गिरोह द्वारा रेल टिकट की कालाबाजारी करने वाला मामला सामने आया है, जहां रेड मिर्ची सहित विभिन्न एप सुपर तत्काल एप के जरिए  रेल टिकट की सेंधमारी की जा रही है। बता दें शहर के कुछ साइबर कैफे के संचालक इस एप की मदद से रेलवे के तत्काल टिकट व एडवांस टिकट का अवैध धंधा कर रहे हैं। 40 सेकंड में ही ये दलाल ट्रेन की आरक्षित बोगियों की टिकटें बुक कर लेते हैं।

वहीं रेलवे बोर्ड से मिली सूचना के बाद नगर थाना की मदद से रेलवे सुरक्षा बल ने सोमवार को बालूघाट के गोला बांध रोड स्थित आदित्य टूर एंड ट्रैवल्स में छापेमारी कर 117 रेल आरक्षित टिकट बरामद किए हें इसके अलावा कंप्यूटर, प्रिंटर, लैपटाप, दो मोबाइल के अलावा नकद चार हजार रुपए बरामद हुए है। बताया गया कि सभी टिकट पर्सनल आईडी से लिए गए थे।

BPSC प्रोजेक्ट मैनेजर एग्जाम की तारीखों में बदलाव, जानें नई डेट्स

बता दें सुपर तत्काल एप की मदद से कुछ मिनटों में ही अधिक से अधिक संख्या में तत्काल व ओपनिंग डेट में एडवांस टिकट लिए गए थे। इसको लेकर संचालक विद्यानंद गुप्ता को आरपीएफ ने गिरफ्तार किया है। इस छापेमारी अभियान में आरपीएफ के निरीक्षक वेद प्रकाश वर्मा के अलावा एएसआई के के पासवान, राजेश रोशन, सुजीत मिश्रा शामिल थे।

वहीं रेल टिकट की कालाबजारी को लेकर ऐसे कई मामले सामने आए हैं, जहां कभी यह टिकट दुगुने दामों पर भी बेचे जाते हैं। साइबर फ्राड के जरिए कुछ गिरोह इस तरह की घटना को अंजाम देते हैं, जहां आम लोगों की जरुरत वाले रेल टिकट की सेंधमारी की जाती है।

मुजफ्फरपुर में ANM को 4 साल पहले ही कर दिया रिटायर, सिविल सर्जन ने मांगी रिपोर्ट

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें