मुजफ्फरपुरः लूट केस में मीनापुर के RJD विधायक मुन्ना यादव कोर्ट में सरेंडर, बेल पर छूटे

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 06:24 PM IST
मुजफ्फरपुर में 15 साल पुराने मामले में मीनापुर के आरजेडी विधायक मुन्ना यादव समेत तीन लोगों ने कोर्ट में सरेंडर किया. बाद में विशेष कोर्ट ने तीनों को बेल पर छोड़ दिया. मुन्ना यादव और उनके साथियों पर लूट का आरोप है.
मुजफ्फरपुर में मीनापुर के आरजेडी विधायक मुन्ना यादव समेत तीन लोगों ने कोर्ट में सरेंडर किया.

मुजफ्फरपुर. लूट के आरोप में मीनापुर के आरजेडी विधायक मुन्ना यादव समेत तीन लोगों ने बुधवार को कोर्ट में सरेंडर किया. बाद में कोर्ट ने तीनों आरोपियों को बेल पर छोड़ दिया. तीनों पर दुकान से 5 हजार कैश और 50 हजार रुपए के सामान को लूटने का आरोप है.

मीनापुर विधायक की ओर से पक्ष न रखे जाने पर कोर्ट ने बेल बांड खारिज कर दिया था. जिसके बाद बुधवार को विधायक मुन्ना यादव समेत तीन लोगों ने कोर्ट में सरेंडर किया. इस केस में मुन्ना यादव के अलावा उनके भाई राजू यादव और गांव के ही अनिल यादव आरोपी हैं. कोर्ट में बेल के दौरान विधायक के वकील ने कहा कि ये केस पटना ट्रांसफर होने और लाकडाउन लगने से विधायक और अन्य लोग अपना पक्ष नहीं रख सके.

मुजफ्फरपुर: 25 सितंबर को कृषि बिल के खिलाफ भारत बंद की तैयारियां तेज

विधायक पक्ष के वकील ने कोर्ट में कहा कि ये आरोपी मामूली हैं इसलिए तीनों को बेल पर छोड़ा जाए. आपको बता दें कि विधायक और उनके साथियों पर लूट का आरोप है. ये मामला 7 अगस्त 2005 का है. बालूघाट न्यू कॉलोनी निवासी राजीव कुमार ने अहियापुर थाने में तीनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. राजीव कुमार ने आरोप लगाया था मुन्ना यादव और उनके साथियों ने उनकी जूते-चप्पलों की दुकान का ताला तोड़कर 5 हजार रुपए और लगभग 50-60 हजार रुपए का सामान लूट लिया. राजीव कुमार ने बताया कि इन लोगों के पास कट्टा था और उन्होंने मारने की भी धमकी दी थी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें