मुजफ्फरपुर में 14 करोड़ की लागत से बनी सड़क की होगी जांच, गुणवत्ता पर उठे सवाल

Smart News Team, Last updated: 11/10/2020 09:12 AM IST
  • मुजफ्फरपुर के बियाडा में छह महीने पहले बनी सड़क की गुणवत्ता पर सवालिया निशान लगने के बाद अब जांच होगी.
प्रतीकात्मक तस्वीर

मुजफ्फरपुर: बियाडा में छह माह पहले बनी सड़क की गुणवत्ता पर औद्योगिक क्षेत्र के प्रबंधन के लिए गठित इंडस्ट्रियल एरिया मैनेजमेंट कमेटी (आईएएमसी) ने सवाल उठाया है. 11 सदस्यीय कमेटी ने जांच का प्रस्ताव पास कर कनीय इंजीनियर से एक हफ्ते के अन्दर  रिपोर्ट मांगी है. बता दें कि छह महीने पहले इस सड़क को बियाडा ने 14 करोड़ की लागत से बनवाया था.

जानकारी के मुताबिक बियाडा में शनिवार को हुई आईएएमसी की बैठक में सड़क के अलावा जल-जमाव व नाला के निर्माण का भी मुद्दा उठाया गया. सदस्यों का कहना था कि बियाडा से जल निकासी की कोई स्थायी व्यवस्था नहीं हो रही है. इस कारण बरसात के दिनों में करीब तीन महीने तक उद्योग बंद हो जाते हैं. सदस्यों ने मांग की है कि इस समस्या से निजात के लिए नाला बनवाया जाए. सदस्यों ने शिकायत की कि बियाडा परिसर में देशभर के वाहन, उनके चालक और कामगार मजदूर आते हैं. उनके लिए शौचालय की व्यवस्था न होने के कारण उन्हें कठिनाई उठानी पड़ती है.

आयुष्मान भारत योजना में फर्जीवाड़ा, मुजफ्फरपुर के 8 अस्पताल निलंबित

बैठक में उद्यमियों व सदस्यों ने क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट न होने पर भी गहरी नाराजगी जतायी. कहा कि सुरक्षा के दृष्टिकोण से स्ट्रीट लाइट आवश्यक है. बैठक में मौजूद प्रभारी विकास अधिकारी अजय कुमार सिन्हा ने आश्वासन दिया कि इन समस्याओं के निदान के लिए पहल की जाएगी. बैठक में आईएएमसी के अध्यक्ष उद्यमी शिवनाथ गुप्ता के अलावा कनीय अभियंता संजीव कुमार सिंह व सहायक अभियंता प्रशांत कुमार भी उपस्थित थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें