मुजफ्फरपुर जेल में दो गुटों में मारपीट, छात्र को जिंदा जलाने वाला आरोपी घायल

Smart News Team, Last updated: 08/03/2021 03:06 PM IST
  • मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल में कैदियों के दो गुटों में रविवार शाम जमकर मार हवा जिसमें अहियापुर की छात्रा को जिंदा जलाने के आरोप में बंद राजा राय घायल हो गया.
मुजफ्फरपुर जेल में दो गुटों में मारपीट, छात्र को जिंदा जलाने वाला आरोपी घायल

मुजफ्फरपुर: मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल में रविवार शाम अचानक भगदड़ मच गया. इस दौरान बंदियों के दो गुटों में जमकर मार पीट हुई. जिसमें एक बंदी घायल हो गया. घायल बंदी की पहचाना अहियापुर की छात्रा को जिंदा जलाने के आरोप में बंद राजा राय के रूप में हुई. इस संबंध में पीड़ित बंदी राजा राय ने रविवार को मिठनपुरा थाने में जेल अधीक्षक राजीव कुमार सिंह के माध्यम से एफआईआर कराई है. इसमें सीतामढ़ी के रतन कुमार और शांतनु कुमार को आरोपित किया गया है, जो पटना के प्रॉपर्टी डीलर योगेंद्र की हत्या के आरोप में बंद है. 

पुलिस घटना की छानबीन में जुट गई है. जेल प्रशासन ने रतन और शांतनु को सेल में बंद कर दिया है. घायल बंदी राजा राय को उपचार के लिए जेल अस्पताल में भर्ती कराया गया. फिलहाल उसकी हालत ठीक है. जेल अधीक्षक राजीव कुमार सिंह ने मारपीट की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि राजा राय ने मिठनपुरा थाने में एफआईआर कराई है. जांच पुलिस के अधीन है. वहीं, मिठनपुरा थानेदार भगीरथ प्रसाद ने बताया कि राजा राय के आवेदन पर एफआईआर कर ली गई है. राजा ने दोनों आरोपितों से खतरे की आशंका जतायी है. 

बिहार में पहली बार 14 मार्च से शुरू होगी वूमेंस फुटबॉल लीग, 5 टीम लेंगी हिस्सा

जांच की जा रही है. जेल सूत्रों के मुताबिक, दोनों आरोपियों ने राजा राय पर कुछ निजी टिप्पणी की थी, जिसको लेकर राजा उनसे पूछने गया. जिसपर दोनो पक्षों के में कहा सुनी हुई और बात मारपीट तक पहुंच गई. इसकी सूचना पर पहुंचे कक्षपाल और अन्य ने सख्ती दिखाते हुए सबको अलग किया. इससे कुछ देर के लिए जेल में अफरातफरी रही.

पटना: जमीनी विवाद में मारपीट के आरोपी को पुलिस ने किया अरेस्ट

आरोपियों ने पटना के प्रॉपर्टी डीलर को मारी थी गोली

पुलिस रिकॉर्ड के मुताबकि, शांतनु और रतन ने पटना के बालू-गिट्टी कारोबारी योगेंद्र कुमार की हत्या कर दी थी. मीनापुर के पानापुर ओपी के रघई पुल के समीप वारदात हुई थी. दोनों के खिलाफ मीनापुर थाने में आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें