न्यूयार्क से मुजफ्फरपुर आ रही UNICEF की टीम, कोरोना मरीजों पर करेगी सर्वे

Indrajeet kumar, Last updated: Fri, 15th Oct 2021, 4:46 PM IST
  • न्यूयार्क से चलकर यूनिसेफ की टीम 18 अक्टूबर को मुजफ्फरपुर आ रही है. यूनिसेफ की टीम कोरोना संक्रमण से ठीक हुए लोगों पर सर्वे करेगी. इस दौरान टीम टीकाकरण केंद्रों और कोविड अस्पतालों के भी दौरा करेगी. साथ ही ही विशेषज्ञ डॉक्टरों से भी बातचीत करेगी.
यूनिसेफ (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर. यूनिसेफ की टीम कोरोना काल में इलाज से ठीक हुए लोगों से मिलने आएगी. दवा कितनी असरदार थी, पता करने के लिए यूनिसेफ के विशेषज्ञ कोरोना से ठीक हुए लोगों से बातचीत करेंगे. साथ ही विशेषज्ञ की टीम वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोगों से भी बातचीत करेगी.न्यूयार्क से मुजफ्फरपुर आने वाली टीम किस किस इलाके में पड़ताल करेगी इसपर तैयारी चल रही है. सिविल सर्जन डॉ विनय कुमार शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि यूनिसेफ की टीम को हरसंभव मदद किया जाएगा. यूनिसेफ के जिला समन्यवक राजेश कुमार ने बताया कि न्यूयार्क से आने वाली यूनिसेफ की टीम 18 अक्टूबर को मुजफ्फरपुर आएगी. दो दिनों तक फील्ड में घूम के ये पड़ताल किया जाएगा कि वैक्सीन लेने के बाद किस व्यक्ति पर क्या प्रभाव पड़ा है.

यूनिसेफ की टीम 10 लोगों की टीम बनाकर अलग-अलग मुहल्लों में जाकर पड़ताल करेगी. टीम में शामिल विशेषज्ञ कोरोना इंफेक्शन से ठीक हो चुके लोगों से मिलकर ये जानेगा कि कोरोना से ठीक हो जाने के बाद उनको किस तरह की परेशानी हो रही है. टीम उन लोगों से भी बातचीत करेगी जो कोरोना की दोनों टीका ले चुके हैं. टीम ये जानने की कोशिश करेगा कि टिक लेने के बाद उन्हें किस तरह की परेशानी हुई. या फिर उनके शरीर में किसी तरह का बदलाव तो नहीं हुआ है. यूनिसेफ के जिला समन्वयक राजेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि यूनिसेफ की टीम दो दिनों तक जिले में सर्वे करेगी. टीम सबसे पहले मुशहरी टोला और मीनापुर में सर्वे करेगी. इस साल बीमारी का प्रभाव सबसे ज्यादा शहरी और इससे सटे मुशहरी इलाके में रहा. इसलिए टीम सबसे पहले शुरुआत यहीं से करेगी. सर्वे के दौरान टीम सदर अस्पताल और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में होने वाली कोरोना टेस्ट और टीकाकरण केंद्रों की भी पड़ताल करेगी. कोरोना टेस्ट और वैक्सीनेशन मानकों पर खरा है या नहीं इसकी भी पड़ताल की जाएगी. टीम कोरोना से मौत होने वाले वाले व्यक्ति के परिवार से भी मुलाकात करेगी और पुर्जा देखकर ये जानने की कोशिश करेगी कि इलाज के दौरान कौन सी दवा चलाई गई है.

Railway news : बिहार के कई स्टेशनों पर वसूला जाएगा यूजर चार्ज, जानिए कितना होगा चार्ज...

यूनिसेफ के जिला समन्वयक ने जानकारी देते हुए बताया कि स्वास्थ्य विभाग के पास जिन मरीजों की लिस्ट है सब इकट्ठा किया जा रहा है. यूनिसेफ की टीम सिविल सर्जन और जिलाधकारी से भी मिलकर बातचीत करेगी. सर्वे में किये गए पड़ताल से जो रिपार्ट आएगी उसे मंत्रालय और स्थानीय अधिकारियों को भी साझा किया जाएगा. ये तैयारियां तीसरे लहर की संभावना के मद्देनजर किया जा रहा है. सिविल सर्जन ने कहा कि कोरोना जांच और इलाज की पूरी व्यवस्था है. उन्होंने बताया कि फिलहाल जिले में एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं हैं. फिर भी ऐहतियातन बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और अस्पतालों में हर रोज छह हजार जांच का लक्ष्य रखा गया है. फिलहाल पूजा पंडालों में 2 दिनों का विशेष टीकाकरण शिविर लगाया गया है. इसके अलावा सदर अस्पताल और पीएचसी में भी टीकाकरण किया जा रहा है. साथ ही नगर निगम और पंचायत स्तर पर भी वैक्सीनेशन कैम्प लगाया जा रहा है. सिविल सर्जन ने बताया कि यूनिसेफ की जो रिपोर्ट आएगी उसपर अमल किया जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें