मुजफ्फरपुर में वायरल बुखार का प्रकोप, 45 बच्चे अस्पताल में भर्ती

Uttam Kumar, Last updated: Fri, 5th Nov 2021, 9:29 AM IST
  • स्वास्थ्य विभाग के जारी आकड़ें के अनुसार पिछले दो दिनों में जिले के एसकेएमसीएच केजरीवाल और सदर अस्पताल में 45 बच्चे भर्ती हुए है. एसकेएमसीएच में 25 केजरीवाल अस्पताल में 14 और सदर अस्पताल में 6 बच्चों का इलाज चल रहा है.
मुजफ्फरपुर में वायरल बुखार से पीड़ित 45 बच्चे अस्पताल में भर्ती. प्रतिकात्मक फोटो

मुजफ्फरपुर. मौसम में हो रहे उतार-चढ़ाव के साथ मुजफ्फरपुर में इन दिनों वायरल बुखार का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग के जारी आकड़ें के अनुसार पिछले दो दिनों में जिले के एसकेएमसीएच(SKMCH) केजरीवाल और सदर अस्पताल में 45 बच्चे भर्ती हुए है. एसकेएमसीएच में 25 केजरीवाल अस्पताल में 14 और सदर अस्पताल में 6 बच्चों का इलाज चल रहा है. अभी रोटावायरस(Rotavirus), इन्फ्लुएंजा वायरस(Influenza virus), राइनोवायरस(Rhinovirus) समेत अन्य वायरस का प्रभाव ज्यादा दिख रहा है.  

सिविल सर्जन डा. विनय कुमार शर्मा के अनुसार वायरल बुखार से पीड़ित सभी बच्चों के इलाज के लिए हर तरह की सुविधा दी जा रही है. बुधवार को सेंट्रल गोदाम से पीएचसी में सभी जरूरी दवा भेज दिया गया है. सभी पीएचसी, सदर अस्पताल में दवा व जांच की सभी जरूरी उपकरण उपलब्ध करा दिया गया है. आशा वर्कर को निर्देश दिया गया है अपने इलाके में वायरल बुखार से पीडि़त बच्चों पर नजर रखे. 

बिहार में जहरीली शराब से मौतों पर राजनीति, तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर लगाया बड़ा आरोप

एसकेएमसीएच के शिशु रोग विभागाध्यक्ष डा.गोपाल शंकर साहनी के अनुसार मौसम में हो रहे उतार चढ़ाव के कारण बच्चे बीमार पड़ रहे हैं. इससे बचने के लिए बच्चों को सुबह व शाम गर्म कपड़ा पहनना शुरू कर देना चाहिए. मच्छर से बचने के लिए मच्छरदानी का उपयोग जरूर करना चाहिए. बासी भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए. 

बिहार में दिवाली पर 14 घरों का दीया बुझा, RJD बोली- नीतीश की शराबबंदी का क्रूर सच

अब सदर अस्पताल में नियमित चलेगी मानसिक विभाग की ओपीडी

सदर अस्पताल में तैनात मनोचिकित्सक के प्रशिक्षण के लिए कोइलवर जाने के बाद मानसिक विभाग की ओपीडी बंद पड़ा था. मानसिक बीमारियों से जूझ रहे मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. मानसिक बीमारियों के मरीजों को होने वाली परेशानी को देखते हुए सिविल सर्जन डा. विनय कुमार शर्मा ने तत्कालीन व्यवस्था के तहत कांटी पीएचसी में तैनात डा.गौरव कुमार को सदर अस्पताल में फिर से नियुक्ति किया है. सिविल सर्जन के अनुसार डा.गौरव कुमार निम्हांस बेंगलुरु से मानसिक रोग का विशेष प्रशिक्षण ले चुके हैं. इससे पहले भी सदर अस्पताल ओपीडी में सेवा दे चुके हैं. जबतक किसी की स्थायी नियुक्ति नहीं हो जाती तब तक डा.गौरव कुमार यहीं पर सेवा देंगे.  

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें