मुजफ्फरपुर: बदमाशों ने कार में महिला का अपहरण कर की लूटपाट, भाड़े के लिए 50 रुपये देकर छोड़ा

Pallawi Kumari, Last updated: Fri, 17th Sep 2021, 12:04 PM IST
  • रेवा रोड के पास बुधवार को एक महिला का कुछ कार सवार बदमाशों ने अगवा कर उससे पैसे जेवर लूट लिए. बाद में बदमाशों ने घर जाने के लिए महिला को 50 रुपये दिए और बीच रास्ते में ही छोड़ दिया.
कार में महिला का अपहरण कर लूटपाट की घटना को दिया अंजाम. फोटो साभार-लाइव हिन्दुस्तान

मुजफ्फरपुर. बिहार में लूटपाट और छिनतई के रोजाना ही कई मामले सुनने को मिलते हैं. हाल ही में कुछ कार सवार बदमाशों ने एक महिला का अपहरण कर उसके साथ लूटपाट की घटना को अंजाम दिया. मामला सदर थाना के भगवानपुर चौक का है. थाना के नजदीक बुधवार शाम रेवा रोड में एक महिला ऑटो से घर आ रही थी. महिला जैसे ही ऑटो से उतरी तीन बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया और कार में बिठाकर लूटपाट की. 

बदमाशों ने उनके पास से दो लाख के जेवर, मोबाइल और पांच हजार रुपये लूट लिए. इसके बाद बदमाशों ने उसे घर से दूर अहियापुर थाना के संगमघाट के पास छोड़ दिया. बदमाशों ने उसे घर जाने के लिए 50 रुपये भी दिए. महिला किसी तरह जान बचाकर वहां से घर पहुंची. घर पहुंच कर उसने परिवार को पूरी आपबीती सुनाई. 

सड़क दुर्घटना में मरने वालों के परिवार को 5 लाख, घायलों को 50 हजार का मुआवजा देगी बिहार सरका

अगले दिन गुरुवार को मुशहरी थाना के छपरा मेघ की रहने वाली रंजना शर्मा ने सदर थाने में एफआईआर दर्ज करवाई. रंजना ने पुलिस को बताया कि, बुधवार को वह देवर के साथ बाइक पर ससुराल गई थी. ससुराल से वापस भगवानपुर आने के लिए उन्होंने ऑटो ली. ऑटो में और भी यात्री बैठे थे. सभी यात्री रास्ते में उतर गए और इसके बाद ऑटो चालक ने उसे भगवानपुर छोड़ा. ऑटो से उतरते ही एक बदमाश ने उसे आवाज लगाई. इसबीच दूसरे बदमाश ने उनका मुंह दबाकर कार में बिठा लिया.

थानेदार सत्येंद्र कुमार मिश्र ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की और घटना की जगह पहुंचकर छानबीन की. पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला. थानेदार सत्येंद्र कुमार ने बताया कि, बदमाशों की पहचान की जा रही है. पूरे मामले में ऑटो चालक की भी भूमिका भी लगती है. मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

सोशल मीडिया पर बिहार पंचायत चुनाव प्रचार की धूम, प्रत्याशियों ने वोटरों को भेजी दिवाली-छठ, ईद तक की बधाई

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें