नेशनल लीची रिसर्च सेंटर मुशहरी में 25 युवाओं को दी लीची प्रसंस्करण की ट्रेनिंग

Smart News Team, Last updated: Sun, 24th Jan 2021, 1:42 PM IST
  • लीची उत्पादन से संबंधित हिदी में प्रकाशित पुस्तक का विमोचन किया गया. भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के संचालन समिति के सदस्य अखिलेश कुमार सिंह ने प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र दिए.
लीची फार्मिंग

मुजफ्फरपुर. लीची प्रसंस्करण उद्योग लगाने के लिए राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र, मुशहरी के तत्वाधान में मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर एवं पूर्वी चंपारण के 25 युवाओं को ट्रेनिंग दी गई. ट्रेनिंग के दौरान डॉ. अलेमवती पोंगेनर ने प्रशिक्षण संयोजक की भूमिका निभाई. उन्होंने बताया कि जिन 25 प्रतिभागियों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया है, उनमें से 13 केंद्र से लाइसेंस लेकर लीची का आरटीएस, रस, गूद्दे की पैकिंग कर मार्केटिंग का कार्य कर रहे हैं.

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के संचालन समिति के सदस्य अखिलेश कुमार सिंह ने प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र दिए. इस दौरान लीची उत्पादन से संबंधित हिदी में प्रकाशित पुस्तक का विमोचन किया गया. मौके पर डॉ. विनोद कुमार, डॉ. ईवनिंग स्टोन मौजूद रहे. अतिथियों ने जानकारी दी कि पुस्तक में लीची प्रसंस्करण उद्योग के बारे में तमाम जानकारी दी गई है. लीची प्रसंस्करण के दौरान बरती जाने वाली तमाम सावधानियों और अधिक उत्पादन कैसे प्राप्त करें, के बारे में पुस्तक में बताया गया है.

सावधान! सोशल मीडिया पर मंत्रियों के बारे में लिखा कुछ गलत तो ऐसे पड़ेगा भुगतना

केंद्र निदेशक डॉ. विशाल नाथ ने आईसीआई बैंक के लीची प्रसंस्करण में आने की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि लीची का प्रसंस्करण कर जब चाहे स्वाद ले सकते हैं. तकनीकि हस्तांतरण प्रभारी डॉ. संजय कुमार सिंह ने भारतीय बागवानी अनुसंधान संस्थान बेंगलुरू में आठ से बारह फरवरी को राष्ट्रीय बागवानी मेले का आयोजन किया जाएगा. उन्होंने किसानों से मेले में शामिल होने का आग्रह किया. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें