मुजफ्फरपुर: कोरोना काल में कम बिक्री के चलते पटाखा व्यवसायियों का कारोबार ठप

Smart News Team, Last updated: Thu, 5th Nov 2020, 7:56 PM IST
  • फायर वर्क्स एसोसिएशन के बैनर तले हुई बैठक में पटाखा कारोबारियों ने अपनी समस्याओं पर चर्चा की. अध्यक्ष इम्तियाज अहमद ने कहा कि इस बार पटाखों की बिक्री ना के बराबर है. बैठक में ग्राहकों को अपनी कमाई में से आठ फीसद छूट देकर सरकार को कम से कम टैक्स देने पर चर्चा की गई.
कोरोना के चलते फेस्टिवल सीजन और शादियो में मांग कम होने के चलते पटाखा व्यवसायी मंदी में

मुजफ्फरपुर. कोरोना के चलते इस बार फेस्टिवल सीजन और शादियों के फंक्शनों के लिए पटाखों की बिक्री में भारी कमी आई है. जिस कारण पटाखा व्यवसायियों का कारोबार ठप होकर रह गया है. इसी के चलते छाता बाजार में फायर वर्क्स एसोसिएशन के बैनर तले बैठक का आयोजन किया गया. बैठक में पटाखा कारोबारियों की आर्थिक हालातों पर विस्तार से विचार-विमर्श किया गया. बैठक में एसोसिएशन के अध्यक्ष इम्तियाज अहमद ने कहा कि कोरोना, बाढ़ और चुनाव ने पटाखा कारोबारियों का धंधा चौपट करके रख दिया है. उन्होंने कहा कि पिछले दस सालों में कभी ऐसा दौर नहीं आया कि पटाखा कारोबारियों को ऐसे हालातों का सामना करना पड़ा हो. कोरोना काल के दौरान शादी-विवाह का मुहूर्त चले गए. फेस्टिवल सीजन में भी मंदी है.

दूसरी तरफ दीपावली-छठ के मौसम में जो पटाखे की थोड़ी बिक्री होने की आस थी तो चुनाव आ गया है. आवाजही ठप होने की वजह से बाहर से आने वाला माल ट्रांसपोर्ट में फंसा है. उनका कहना है कि ऊपर से सरकार को टैक्स देने का बोझ भी है. उन्होंने कहा कि इस बार बिक्री ना के बराबर है. इसके बावजूद सरकार को 18 फीसद जीएसटी सहित अन्य कर मिलाकर 23 फीसद कर भर चुके है, लेकिन बिक्री शून्य है.

60 लाख पेंशनर्स को दीवाली गिफ्ट देने की तैयारी में मोदी सरकार, ये है प्रस्ताव

उन्होंने कहा कि ग्राहकों को अपनी कमाई में से आठ फीसद छूट देकर सरकार को कम से कम टैक्स दे देंगे. इससे कम से कम लाइसेंस तो बचा रहेगा. बैठक में साधु, अब्दुल रहमान, शाहनवाज अहमद, चंदन कुमार, विनोद कुमार, गणेश साह, विश्वदीप कुमार, मो. चांद, दिलशाद अहमद, खालिद अहमद, दीपनारायण साह आदि ने शामिल होकर अपने विचार रखे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें