मुजफ्फरपुर: होटल-रेस्तरां में ग्राहक आना शुरू, नुकसान की भरपाई में लगेंगे महीनों

Smart News Team, Last updated: 03/11/2020 05:17 PM IST
  • कोरोना की मार हर तरह के व्यवसाय पर पड़ी है. लॉकडाउन में अक्टूबर में कुछ छूट मिलने के बाद होटल-रेस्तरां में ग्राहकों का आना शुरू होने से उनका व्यवसाय पटरी पर लौट रहा है. उनका कहना है कि उनकी प्राथमिकता ग्राहको की सुरक्षा है. इसलिए उनकी ओर से कोरोना के सभी जरूरी मापदंडों का पालन अनिवार्य है.
पटना के मौर्या होटल के रेस्तरां में दोपहर लंच करने पहुंची एक फैमिली।

मुजफ्फरपुर. कोरोना के कारण छोटे बड़े सभी कारोबारियों का कारोबार प्रभावित हुआ है. लॉकडाउन की वजह से होटल-रेस्तरां के कारोबार से जुड़े लोगों को भी काफी नुकसान झेलना पड़ा है. हालांकि लॉकडाउन में छूट मिलने के कारण पिछले कुछ दिनों से रेस्तरां और होटलों में ग्राहक पहुंचने लगे हैं. इस बारे में शहर के होटल और रेस्टरोंट मालिकों का कहना है कि उनका कारोबार इस अवधि में 10 से 15 फीसदी ही रह गया है. कोरोना काल के कारण उनका इतना नुकसान हो गया है कि अब इसकी भरपाई होने में कई महीनों का समय लग जाएगा.

उनका कहना है कि कोरोना की वजह से लोग अभी भयभीत हैं. पिछले कुछ दिनों से ग्राहक आना शुरू हुए हैं लेकिन अभी लोग कम आ रहे हैं. दूसरे शहरों से आने वाले लोग तो देर शाम तक काम खत्म कर लौट जाते हैं जबकि पहले वे रात रुक जाते थे और रेस्टोरेंट का कारोबार भी अच्छा चलता था. रात के समय भी डिनर के लिए आना शुरू हो गए हैं लेकिन अब लोकल एरिया में ग्राहकों की कमी है.

LIVE: बिहार चुनाव का दूसरा चरण आज, मुजफ्फरपुर की 5 सीटों पर 41 फिसदी मतदान

हालांकि होटल और रेस्टोरैंट मालिकों की ओर ग्राहकों की सुरक्षा के तमाम इंतजाम किए गए हैं. पहले लॉकडाउन के ग्राहकों को होम डिलीवरी ही की जाती थी. अब ग्राहकों का आना शुरू हो गया है और सभी जरूरी कोविड प्रोटोकोल फॉलो किए जा रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान से ही खाना बनाने वाले शैफ से लेकर हर कर्मचारी को संक्रमण से बचाव के जरूरी मापदंडों का पालन करना अनिवार्य किया हुआ है ताकि सभी का कोरोना से बचाव हो सके.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें