मुजफ्फरपुर: किसानों को कई योजनाओं का लाभ अब एक ही रजिस्ट्रेशन पर मिलेगा

Smart News Team, Last updated: 13/12/2020 03:27 PM IST
कृषि से संबंधित सभी योजनाओं का लाभ लेने के लिए अब किसानों को विभिन्न विभागों में अलग-अलग रजिस्ट्रेशन नहीं कराना होगा। किसानों को धान व गेहूं बेचने के लिए भी सहकारिता विभाग की पोर्टल पर अलग से रजिस्ट्रेशन कराने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
अनाज सड़े या खराब हो जाये अब किसानों या आढ़तियों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है

मुजफ्फरपुर: कृषि से संबंधित सभी योजनाओं का लाभ लेने के लिए अब किसानों को विभिन्न विभागों में अलग-अलग रजिस्ट्रेशन नहीं कराना होगा। बता दें अगर कृषि विभाग की साइट पर किसान ने अपना रजिस्ट्रेशन करा लिया है तो वो कृषि से संबंधित सभी योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं। वहीं इसी रजिस्ट्रेशन के आधार पर किसान अपनी पंचायत के पैक्स या व्यापार मंडल में सरकार से निर्धारित कीमत पर अपनी उपज भी बेच सकते हैं। किसानों को धान व गेहूं बेचने के लिए भी सहकारिता विभाग की पोर्टल पर अलग से रजिस्ट्रेशन कराने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

बता दें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में धान खरीद की दयनीय स्थिति को देखते हुए योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसानों के बार-बार होने वाले रजिस्ट्रेशन की बाध्यता को खत्म कर दिया है।अब निबंधित जिले के सभी 4.5 लाख किसान अपने उत्पाद  को कृषि विभाग की वेबसाइट पर  सरकारी कीमत पर बेच सकते हैं। वहीं धान खरीद के लिए जिले के 385 में से 302 पैक्सों को सीसी लिमिट के रूप में अग्रिम राशि सहकारिता बैंक से उपलब्ध कराई गई है। 

 फाइनेंस कर्मचारी की बाइक की डिक्की तोड़कर उड़ाए 40 हजार रुपये

गौरतलब है कि अबतक अनुदान पर यंत्र, बीज व खाद लेने के लिए कृषि विभाग की पोर्टल पर किसानों को रजिस्ट्रेशन कराना होता है। वहीं फसल बीमा व धान अधिप्राप्ति के लाभ के लिए सहकारिता विभाग की साइट पर, सिंचाई योजनाओं व बागवानी मिशन का लाभ लेने के लिए उद्यान विभाग की साइट पर और तालाब निर्माण समेत मत्स्यपालन संबंधी लाभ के लिए मत्स्य पालन विभाग में निबंधन कराना पड़ता है।

16 दिसंबर से चलेगा मतदाता सूची में नाम जुड़वाने का अभियान

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें