पंचायत चुनावों में 700 मतदाताओं के आधार पर बूथों की सूची बनाने की प्रक्रिया शुरू

Smart News Team, Last updated: Thu, 11th Feb 2021, 8:16 PM IST
  • मुजफ्फरपुर में राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से पंचायत चुनावों को लेकर बूथों की सूची बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. 2016 में एक हजार मतदाता के पीछे एक बूथ बना था लेकिन इस बार 700 मतदाता के पीछे एक बूथ बनने से मुजफ्फरपुर में बूथों की गिनती बढ़ेगी.
यूपी पंचायत चुनाव अब अप्रैल में संभव.

मुजफ्फरपुर. जिले में हो रहे पंचायत चुनावों में इस बार बूथों की गिनती बढ़ जाएगी. उम्मीद है कि गिनती डेढ़ गुना बढ़ेगी क्योंकि इस बार 700 मतदाताओं की गिनती के आधार पर एक बूथ बनाया जाएगा जबकि 2016 में एक हजार मतदाताओं के पीछे एक बूथ बनाया गया था. उस समय बूथो की गिनती 5488 थी, जो अब बढ़कर करीब 7800 हो जाएगी. गौर हो कि जिले में पंचायत चुनावों को लेकर तैयारियां तेज कर दी गई हैं. 

उल्लेखनीय है कि इस संबंधी राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से निर्देश जारी होने के बाद बूथ बनाने की प्रक्रिया भी शुरू की जा रही है. मतदान केंद्रों की सूची प्रकाशित करने के बाद दावा आपत्ति के आधार पर सूची को अंतिम रूप दिया जाएगा. गौर हो कि सात नई नगर पंचायत के गठन और तीन नगर पंचायतों का नगर परिषद में विस्तार होने से आधा दर्जन पंचायतों का अस्तित्व नहीं रहा.

मुजफ्फरपुर: मुखिया पति से 50 लाख की रंगदारी मांगी, पैसे न देने पर हत्या की धमकी

जिले में कई पंचायतों के स्वरूप में भी बदलाव हुआ है. जिसके चलते इस बार बूथों की संख्या कम होगी. इस सबको देखते हुए निर्वाचन आयोग की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं कि इस बार सात सौ मतदाताओं की संख्या के आधार पर बूथों की सूची तैयार की जाए. जिससे पंचायत चुनाव में इस बार बूथों की गिनती में इजाफा होगा. गौर हो कि पिछली बार के बूथों की संख्या 5488 से बढ़कर 7800 हो जाएगी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें