आयुष्मान भारत कार्यक्रम में गोल्डन कार्ड बनाने का काम में तेजी लाने के निर्देश

Smart News Team, Last updated: 22/02/2021 06:23 PM IST
  • मुजफ्फरपुर में गोल्डन कार्ड बनाने की योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं. तीन मार्च तक गांवों की पंचायतों में निशुल्क कार्ड बनाया जा रहा है. 
गोल्डन कार्ड

मुजफ्फरपुर. जिले में आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत गोल्डन कार्ड बनाने का काम किया जा रहा है. कार्य का जायजा लेने नेशनल हेल्थ अथॉरिटी (एनएचए) की टीम पहुंची. एनएचए के सलाहकार आशुतोष कुमार सिंह की ओर से आयुष्मान पखवाड़े के दौरान बन रहे गोल्डन कार्ड का जायजा लिया. उन्होंने जिलाधिकारी, डीपीआरओ, सीएस, डीपीएम जीविका, जीविका एसडी मैनेजर आदि से बातचीत कर काम में तेजी लाने के लिए कहा है.

केंद्रीय टीम की ओर से वीसी के जरिए जीविका के सभी साथियों से बातचीत करके ज्यादा से ज्यादा कार्ड बनाने के लिए आग्रह किया गया है. आशुतोष कुमार सिंह ने कहा कि हर गांव की पंचायत में तीन मार्च तक आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है. इस योजना के तहत उन लोगों का कार्ड बनाया जाएगा. जिनका नाम 2011 के सर्वे के अनुसार एसईसीसी डाटा में दर्ज होगा. इस योजना का लाभ पूरे देश में 24 हजार सूचीबद्ध अस्पतालों में लाभार्थी उठा सकते हैं.

मुजफ्फरपुर: श्रीराम जानकी मठ में हुई चोरी, 2.5 करोड़ की मूर्तियां उड़ा ले गए चोर

डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम कोर्डिनेटर विद्या सागर ने बताया कि मुजफ्फरपुर में कुल पांच लाख बीस हजार 794 लाभार्थी परिवार हैं. अभी तक कुल दो लाख नौ हजार 845 लाभार्थियों का कार्ड बना है. कोशिश है कि पखवाड़े के तहत ज्यादा से ज्यादा लोगों का कार्ड बने. एनएचए की टीम ने सभी अधिकारियों को कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें