कोरोना और कोहरे में इंटर परीक्षा, तनाव दूर करने को शिक्षा विभाग ने बांटे चॉकलेट

Smart News Team, Last updated: Mon, 1st Feb 2021, 8:05 PM IST
  • मुजफ्फरपुर में इंटर परीक्षा की शुरुआत घने कोहरे के बीच हुई. शिक्षा विभाग ने स्टूडेंट्स को घर जैसा ही माहौल मिले इसकी पूरी कोशिश की. शिक्षा कर्मियों ने बच्चों को परीक्षा केंद्र में एंट्री पर फूल और चॉकलेट देकर स्वागत किया. 
बिहार मैट्रिक परीक्षा में 16 लाख से ज्यादा विद्याथी शामिल होंगे. प्रतीकात्मक तस्वीर

मुजफ्फरपुर. बिहार में इंटरमीडिएट एग्जाम शुरू हो गए हैं जो 17 फरवरी तक चलेंगे. राजधानी के सभी परीक्षा केंद्रों में सोमवार को इंटरमीडिएट की परीक्षा दो पालियों में हुई. सुबह कोहरा पूरे जोरों पर था और कोहरे के बीच कोरोना की नियमों की पालना करते हुए मुजफ्फरपुर के चार आदर्श केंद्रों को सजाया गया. इसके साथ ही परीक्षार्थियों का तनाव दूर करने के लिए शिक्षा विभाग ने उन्हें चॉकलेट बांटे और एंट्री के दौरान बच्चों का वेलकम फूल देकर किया.

उल्लेखनीय है कि इस पूरे सेशन की पढ़ाई बाधित रही, जिस कारण बच्चे मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं, इसे देखते हुए शिक्षा विभाग की ओर से एग्जाम के दौरान बच्चों को घर जैसा माहौल देने के लिए प्रयास किया गया. एंट्री गेट पर शिक्षा कर्मचारियों ने बच्चों का स्वागत किया और चॉकलेट व फूल देकर उनका स्वागत किया. स्टूडेंट्स ने भी शिक्षा विभाग के इस प्रयास से खुश और तनाव से रिलिफ महसूस की.

फरवरी लास्ट वीक तक आएगा BSSC इंटर फर्स्ट लेवल रिजल्ट, जानें फुल डिटेल्स

डीईओ अब्दुस सलाम अंसारी के मुताबिक इंटर की परीक्षा दो पालियों में ली जा रही है. पहली पाली सुबह 9.45 से एक बजे तक और दूसरी पारी 1.45 से शाम 5 बजे तक परीक्षा ली जा रही है. उन्होंने बताया कि सभी परीक्षा केंद्रों में पुख्ता इंतजाम हैं. एग्जाम के बाद उत्तरपुस्तिका सील कर स्टोर रूम में रखी जाएगी. शिक्षा विभाग के ओर से स्टूडेंट्स को तनाव मुक्त रखने के साथ-साथ परीक्षा कदाचार मुक्त हो इसके लिए पूरे प्रबंध किए गए हैं और हर परीक्षा केंद्र पर सीसीटीवी की निगरानी में परीक्षा ली जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें