मुजफ्फरपुर: प्रसव प्रोत्साहन घोटाले के बाद अब हो सकते हैं योजना में कई बदलाव

Smart News Team, Last updated: Wed, 26th Aug 2020, 12:26 PM IST
  • प्रसव प्रोत्साहन राशि घोटाले के बाद योजना में कई बदलाव हो सकते हैं.बदलाव के बाद केवल दो बच्चों तक प्रोत्साहन राशि मिल सकेगी.डीएम की ओर से गठित चार सदस्यीय कमेटी ने बदलाव का प्रस्ताव दिया है.घोटाले की जांच में लगी टीम आज लेखपाल भवन का ताला खोलेगी.
प्रसव प्रोत्साहन राशि घोटाला सामने आने के बाद लेखपाल कार्यालय पर लटका ताला

मुजफ्फरपुर : प्रसव प्रोत्साहन राशि योजना घोटाला सामने के बाद अब केवल दो प्रसव पर ही प्रतोत्साहन राशि देने का प्रावधान होगा. डीएम डा0 चन्द्रशेखर ने इस योजना में बदलाव का प्रस्ताव स्वास्थ्य विभाग को भेज दिया है. बदलाव पर अंतिम निर्णय  स्वास्थ्य विभाग का होगा.

जानकारी के मुताबिक बीते दिनों प्रसव प्रोत्साहन योजना में बड़ा घोटाला सामने आने के बाद इस योजना के नियमों में कई बदलाव हो सकते हैं.नए नियमों के तहत अब सिर्फ जीवित बच्चे पर ही प्रोत्साहन राशि मिल सकेगी. इसके साथ ही दो बच्चों के जन्म में ही महिलाओं को इस योजना का लाभ मिल सकेगा.इसके साथ ही अब प्रोत्साहन राशि के भुगतान के तरीकों में भी बदलाव हो सकता है.अब भुगतान संबंधित साफ्टवेयर से किसी लाभर्थी को एक से अधिक बार भुगतान नही किया जा सकेगा. 

इसके साथ ही भुगतान राशि में हुए घोटाले की जांच भी जारी है. जांच के पांचवें दिन बाद भी सीएचसी में लेखपाल के कमरे का ताला नही खुला है. लेखपाल अवधेश कुमार घोटाला सामने आने के बाद से सीएचसी से गायब हैं.जांच टीम की मांग पर डीएम ने लेखपाल के कमरे को खुलवाने का आदेश दे दिया है.जिसके बाद आज यानी बुधवार को ताला खुलने की उम्मीद है.लेखपाल के गायब होने के कारण एनआरएचएम के तहत होने वाले सभी भुगतान लंबित है.

आपको बता दें बीते दिनों इस योजना में फर्जीवाड़ा  सामने आने के बाद जिलाधिकारी की ओर से चार सदस्यीय कमेटी का गठन हुआ था.इस कमेटी ने इस योजना के नियमों में बदलाव करने का सुझाव दिया  है. कमेटी का सलाह है कि अब सिर्फ दो जीवित बच्चों के जन्म में ही महिलाओं को प्रोत्साहन राशि दी जाए कमेटी के प्रस्तावों को स्वास्थ्य विभाग को भेज दिया गया है.इस पर अंतिम निर्णय स्वास्थ्य विभाग का होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें