सुशासन बाबू की सरकार कर रही बाढ़ पीड़ितों की उपेक्षा: पप्पू यादव

Smart News Team, Last updated: 06/08/2020 12:18 PM IST
  • जनाधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने पारू विधानसभा क्षेत्र के दर्जनों बाढ़ पीड़ित गांवों का दौरा किया
पप्पू यादव (फ़ाइल फ़ोटो)

मुजफ्फरपुर : सुशासन बाबू की सरकार बाढ़ पीड़ितों की उपेक्षा कर रही है। बाढ़ और कोरोना वायरस से पाँच माह से देश में विधायक- मंत्री लॉकडाउन में हैं। सबसे ज्यादा मोदी और अमित शाह के नेताओं को डर क्यों लगता है। डर तो मुझे लगना चाहिए जो 35 लाख लोगों से मैं मिला हूं, लेकिन आज बीजेपी के आधे नेता-मंत्री पॉजिटिव हो गए हैं।

उक्त बातें जनाधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने पारू विधानसभा क्षेत्र के दर्जनों बाढ़ पीड़ित गांवों का भ्रमण करने के बाद कमलपुरा गांधी स्वराज आश्रम परिसर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि किसानों की ऋण माफी व बाढ़ पीड़ितों को 15 हजार रुपये देने की सरकार घोषणा क्यों नहीं कर रही। उन्होंने भिलाईपुर में मृत जटहु माझी के स्वजन से मिल कर परिवार को आर्थिक सहयोग किया।

वहीं, गोरीगमा, दातापुर, रेपुरा, पंचभिड़वा, भिखनपुरा, चिंतावनपुर, मधौल, बसैठा समेत दर्जनों गांवों का दौरा कर एसडीओ से अविलंब सहायता करने को कहा। मौके पर प्रदेश महासचिव रानू नीलम शंकर, जिलाध्यक्ष प्रमोद राय, महिला जिलाध्यक्ष अनुराधा सिंह आदि थे। श्री यादव ने बाढ़ प्रभावित गिजास पंचायत के बाढ़ पीड़ितों से मिलकर उनकी सुध ली। इधर, जैंतपुर में पूर्व विधायक वीरेंद्र कुमार सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। गिजास पंचायत भवन पर मुखिया इदरीश मिया ने उनका स्वागत किया।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें