Ekadashi 2022: 26 या 27 कब है विजया एकदाशी व्रत, जानें सही डेट, पूजा मुहूर्त और उपाय

Pallawi Kumari, Last updated: Fri, 25th Feb 2022, 9:05 AM IST
  • विजया एकदाशी व्रत फाल्गुन कृष्ण पक्ष की एकादशी के दिन रखा जाता है. लेकिन इस बार एकादशी व्रत के डेट को लेकर लोग कंफ्यूज हैं. आइये जानते हैं 26 या 27 फरवरी कब रखा जाएगा एकादशी व्रत. बता दें कि एकादशी व्रत और पूजन भगवान विष्णु को समर्पित होता है.
विजया एकादशी (फोटो लाउव हिन्दुस्तान)

हिंदू कैलेंडर के अनुसार फाल्गुन माह की एकादशी तिथि को विजया एकादशी के रूप से जाना जाता है. एकादशी का व्रत सभी वतों में सबसे कठिन माना जाता है. हर माह दो एकादशी पड़ती है एक कृष्ण पक्ष में और दूसरी शुक्ल पक्ष में. लेकिन फाल्गुन माह की कृष्ण पक्ष की विजया एकादशी का विशेष महत्व होता है. इस व्रत को करने से हर मनोकामना पूरी होती है. साथ ही इस व्रत को संकट और शत्रुओं से विजय पाने वाला माना जाता है.

लेकिन इस बार विजया एकादशी की तारीख को लेकर लोगों के बीच असमंजस बना हुआ है. लोग कंफ्यूज है कि 26 फरवरी को विजया एकादशी है या 27 को. आपको कंफ्यूज होने की जरूरत नहीं है आइये जानते हैं विजया एकादशी की सही तिथि और पूजा मुहूर्त के बारे में.

आलिया के Dholida गाने पर प्रेग्नेंट महिला ने बेबी बंप के साथ किया डांस, वीडियो Viral

26 या 27 कब है विजया एकादशी

एकादशी प्रारंभ- शनिवार 26 फरवरी सुबह 10:39 मिनट से

एकादशी तिथि समाप्त- 27 फरवरी को सुबह 08:12 मिनट पर

पूजा के शुभ समय- 26 फरवरी दोपहर 12:11 से 12:57 मिनट तक

एकादशी व्रत उदया तिथि के अनुसार रखा जाता है. ऐसे में एकादशी का व्रत 27 फरवरी को रखना ज्यादा उपयुक्त होगा. लेकिन गृहस्थ लोग 26 फरवरी को व्रत रख सकते हैं.

विजया एकादशी उपाय-

1. विशेष मनोकामना पूर्ति के लिए- भगवान श्री राम को 11 केले, लड्डू, लाल फूल, 11 चंदन की अगरबत्ती और 11 दीपक जलाएं. 11 खजूर और बादाम अर्पित करते हुए पूजा करें और‘ॐ सिया पतिये राम रामाय नमः’ मंत्र का जाप करें.

2. रोजगार के लिए- जौ से भरे एक पात्र रखें और दीपक जलाएं. 11 लाल फूल, 11 फल और मिठाई चढ़ाएं. विष्णु भगवान और मां लक्ष्मी की पूजा करते हुए ‘ॐ नारायणाय लक्ष्म्यै नमः’ मंत्र का जाप करें.

3. निसंतान दंपति के लिए उपाय- पति पत्नी दोनों भगवान विष्णु की पूजा करें. एक कलश में दूध में मिश्री मिलाकर पीपल पेड़ पर चढ़ाएं.

Mahashivratri 2022: महाशिवरात्रि पर बनेगा पंचग्रही योग, इस मुहूर्त पर पूजा करना होगा शुभ

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें