पीएचसी प्रभारियों को 5 फरवरी तक पूरा करना होगा वैक्सीनेशन के पहले चरण का लक्ष्य

Smart News Team, Last updated: Tue, 2nd Feb 2021, 10:53 AM IST
  • मुजप्फरपुर में कोरोना वैक्सीनेशन का पहला चरण चल रहा है. पीएचसी प्रभारियों के लिए पहले चरण का लक्ष्य हासिल करने के लिए सख्त हिदायत दे दी गई, जो पीएचसी प्रभारी तय समय पर लक्ष्य पूरा नहीं कर पाएगा उस पर सख्त एक्शन होगा
फाइल फोटो

मुजफ्फरपुर. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में पहले चरण के तहत कोरोना वैक्सीनेशन किया जा रहा है. सिविल सर्जन प्रभारी सह क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ. विनय कुमार शर्मा ने वैक्सीनेशन के कार्य की समीक्षा के लिए बैठक का आयोजन किया. पहले चरण में कोरोना वैक्सीन के लक्ष्य को हासिल करने के लिए पांच फरवरी की तारीख तय कर दी गई है. कोरोना वैक्सीन के पहले चरण में तय लक्ष्य को जो पीएचसी प्रभारी पूरा नहीं कर पाएगा. उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. डॉ. विनय कुमार शर्मा के मुताबिक जिले में वैक्सीनेशन के लिए पहले से बीस सेंटर बनाए गए हैं. अगर पीएचसी प्रभारी चाहें तो केंद्रों की गिनती बढ़ा सकते हैं. वेबसाइट पर जितने लोगों ने वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है, उसके हिसाब से वैक्सीन उपलब्ध है.

उल्लेखनीय है कि डॉ. विनय कुमार शर्मा को सीएस डॉ. एसपी सिंह के सेवानिवृत्त होने के बाद उनका प्रभार दिया गया है. सदर अस्पताल में टीकाकरण अभियान चलाया गया. जिसमें 70 लोगों को वैक्सीन दी गई. डॉ. शर्मा के मुताबिक पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका दिया जा रहा है. लक्ष्य पूरा हो जाने के बाद दूसरा चरण शुरू होगा और दूसरा डोज दिया जाएगा. पहले चरण में डोज लगवाने वालों के लिए दूसरे चरण का डोज लगवाना भी जरूरी है ताकि वह कोरोना से पूरी तर सुरक्षित रह सकें.

मुजफ्फरपुर में चोरों का आतंक, किसान के घर 10 लाख की चोरी

उन्होंने बताया कि मुजफ्फरपुर में अब पांच दिन टीकाकरण किया जाएगा. जिसके लिए सप्ताह में पांच दिन मंगलवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार का दिन तय किया गया है. सभी सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण कराया जाएगा. इससे पहले सप्ताह में चार दिन टीकाकरण किया जा रहा था जबकि एसकेएमसीएच में पहले से ही पांच दिन वैक्सीनेशन का सत्र चल रहा था. गौर हो कि पहले चरण में मुजफ्फरपुर जिले में बीस हजार 651 लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य तय किया गया है. जिसमें से अब तक नौ हजार लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है. लक्ष्य पूरा करने के लिए पांच फरवरी तय की गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें