प्रॉपर्टी डीलर हत्याकांड में पुलिस ने बरामद किया हत्या में इस्तेमाल किया पेचकस

Smart News Team, Last updated: 06/10/2020 11:04 AM IST
माड़ीपुर में सोमवार की सुबह ससुराल वालों की प्रताड़ना के कारण से खूब कर एक महिला अपनी अपनी करीब 14 माह की बच्ची के साथ जिंदा जल गई। कमरा बंद कर खुद और बच्ची पर ज्वलनशील पदार्थ छिड़ककर आग लगा ली। जब तक कमरे का दरवाजा तोड़कर दोनों को बाहर निकाला जाता तब तक दोनों की जान जा चुकी थी। पुलिस ने महिला के पिता के बयान पर पति सास ननंद और उसके नंदोई पर कार्यवाही की है। थानेदार ने बताया कि आगे की कानूनी प्रक्रिया में पुलिस जुटी है।  बेतिया के सुप्रिया रोड के एक चूड़ा मिल के कर्मी रविंद्र मिश्रा से दोपहर में बाइक सवारों ने 6.5 लाख रुपए लूट लिए. चूड़ा मिल के मालिक रामराजी प्रसाद ने अपने दो कर्मी रविंद्र मिश्रा और सतीश मणि त्रिपाठी को 9 लाख का चेक देकर बेतिया भेजा था। दोनों का दोनों कर्मियों ने बैंक से रुपए निकालकर 6.5 लाख रुपए झोले में तथा ढाई लाख रुपए अपनी पॉकेट में रख लिए थे।बस से उतरते हुए बाईक सवारों ने उनसे पैसे लूट लिए और अपराधी घटना को अंजाम देकर उर्वशी सिनेमा की ओर फरार हो गए। प्रॉपर्टी डीलर नरेंद्र नाथ यादव हत्याकांड में सोमवार को एफएसएल की 2 सदस्य टीम ने घटनास्थल की जाँच की। इस दौरान टीम को एक बड़ा पेचकस भी मिला जिस पर खून के निशान थे. इसके अलावा खून से सना एक गमछा भी बरामद किया. एफएसएल की टीम ने दोनों को जप्त कर लिया है साथ ही खून के धब्बे का नमूना भी एकत्रित कर लिया है। प्रॉपर्टी डीलर के बेटे से क़रीब आधा दर्जन से अधिक बिंदुओं पर बातचीत पूछताछ की गई. नगर थाने से निलंबित अधिकारी और उनकी पत्नी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।पूछताछ के बाद दोनों को कोर्ट में पेश किया गया। मालूम हो कि रविवार की रात प्रॉपर्टी डीलर की हत्या कर दी गई थी  समस्तीपुर में बिहार मुक्त विद्यालय शिक्षण शिक्षण परीक्षा बोर्ड की माध्यमिक और उच्च माध्यमिक परीक्षा की उत्तर पुस्तिका परीक्षा केंद्र की जगह शहर के होटल में लिखते समय पुलिस ने छापेमारी कर चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार लोगों में एक शिक्षक भी है। पुलिस ने परीक्षा में गड़बड़ी की सूचना मिलने पर सोमवार के समस्तीपुर में एक होटल में छापेमारी की। तलाशी में पुलिस ने उनके भी उनके पास से बिहार विद्यालय परीक्षा की कुल 138 उत्तर पुस्तिका एक लैपटॉप एडमिट कार्ड व 5 मोबाइल बरामद किया है।  मुजफ्फरपुर शहर की यातायात व्यवस्था एक बार फिर सोमवार को धाराशाही हो गई। प्रमुख बाजारों की सड़कें इसकी जद में आ गई। शहर में नगर निगम द्वारा दोपहर को कोड़ा उठाने की वजह से जाम लग गया। वहीं बाजार में वनवे को तोड़ना, ओवरटेकिंग और अतिक्रमण भी इसकी वजह रही। शहर में जाम होने पर नेशनल हाईवे पर भी दबाव पड़ा और यातायात धीमा हो गया।

सम्बंधित वीडियो गैलरी