आगरा मेट्रो ट्रैक के 50 मीटर की दूरी पर नया मकान बनाने को लेनी होगी मंजूरी

Somya Sri, Last updated: Tue, 7th Sep 2021, 10:36 AM IST
  • आगरा मेट्रो ट्रैक की 50 मीटर की दूरी पर नया मकान बनाने से पहले उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन यानी यूपीएमआरएसी से एनओसी यानी अनापत्ति प्रमाण पत्र लेना होगा. ये फैसला आगरा विकास प्राधिकरण यानी एडीए ने सोमवार को हुए एक बैठक में लिया.
आगरा मेट्रो (प्रतिकात्मक फोटो)

आगरा: अब आगरा मेट्रो ट्रैक की 50 मीटर की दूरी पर नया मकान बनाने से पहले लोगों को मंजूरी लेनी होगी. अब आगरा मेट्रो ट्रेन की 50 मीटर की दूरी पर नया मकान बनाने से पहले उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन यानी यूपीएमआरएसी से एनओसी यानी अनापत्ति प्रमाण पत्र लेना होगा. ये फैसला आगरा विकास प्राधिकरण यानी एडीए ने सोमवार को हुए एक बैठक में लिया. एडीए उपाध्यक्ष ने आदेश जारी कर कहा कि अनापत्ति प्रमाण पत्र लेने के बाद ही मकान के लिए नक्शा जारी किया जाएगा.

बता दें कि फतेहाबाद रोड पर मेट्रो के तीन एलीवेटेड स्टेशनों का निर्माण चल रहा है. पीएसी ग्राउंड में मेट्रो का पहला डिपो बन रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक आगरा मेट्रो ट्रैक तीस किमी लंबा होगा. इसमें साढ़े 22 किमी एलीवेटेड और साढ़े सात किमी भूमिगत होगा. मेट्रो के कुल 27 स्टेशन होंगे. इनमें सात भूमिगत और बीस एलीवेटेड होंगे. मेट्रो प्रोजेक्ट की कुल लागत 8379 करोड़ रुपये है. आगरा मेट्रो का दूसरा डिपो विहार में बनेगा. 272 करोड़ की लागत से फतेहाबाद रोड पर तीन स्टेशनों का निर्माण किया जा रहा है. 112 करोड़ रुपये से आगरा मेट्रो के पहले डिपो का निर्माण हो रहा है. 

आगरा: राजकीय शिक्षक संघ ने मनचाहे शिक्षकों को सम्मानित करने का लगाया आरोप

वहीं आगरा मेट्रो ट्रैक की 50 मीटर की दूरी पर नया मकान बनाने से पहले लोगों को मंजूरी लेने के फैसले पर आगरा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पैंसिया ने कहा कि, "बिना यूपीएमआरसी की एनओसी के नक्शा पास नहीं होगा. बोर्ड बैठक के प्रस्ताव के बाद इस पर मसौदा तैयार कर लिया गया है. एनओसी के लिए 50 मीटर की दूरी का प्रावधान है."

अन्य खबरें