मछली विक्रताओं को मिलेगा यूनिफॉर्म और किट, मत्सय विभाग ने पटना में कराया सर्वे

Smart News Team, Last updated: Wed, 13th Jan 2021, 9:43 AM IST
पटना में अब मछली विक्रताओं को यूनिफॉर्म मिलेगी. मत्सय विभाग ने मछली बेचने वालों को किट देने का फैसला किया है जिसमें ड्रेस, टब, छतरी के साथ मछली काटने के लिए चिलोही भी होगी. इससे गंदगी को रोका जा सकेगा.
मछली विक्रताओं को मिलेगा यूनिफॉर्म और किट, मत्सय विभाग ने पटना में कराया सर्वे

पटना. पटना में अब मछली बेचने वालों यूनिफॉर्म में दिखेंगे. मछली की दुकानों के आसपास गंदगी भी नहीं दिखेगी. मछली विक्रेता को किट दी जा रही है जिसमें ड्रेस, टब के साथ मछली काटने के लिए चिलोही भी होगी. 

मत्सय विभाग ने मछली बेचने वालों को मत्सय किट देने का फैसला लिया है. पहले चरण में 200 मछली विक्रेताओं को किट मिलेगी. इसके लिए पटना जिले के मछली विक्रेताओं का सर्वे पूरा हो चुका है. राजापुर पुल, राजा बाजार, दीघा, गर्दनबाग, राजेन्द्र नगर, कंकड़बाग और बोरिंग रोड में सर्वे हुआ है. 

पटना नगर निगम से सफाईकर्मी के नाम पर की गई धन उगाही, आयुक्त ने दिया जांच के आदेश

मत्स्य किट में पहनने के लिए एपरेल, मछली काटने के लिए छिलोही, मछली रखने के लिए बड़े टब के साथ छतरी भी दी जाएगी. सर्वे में मछली बेचने वाले से घर का पता, कितनी मछली बेचते हैं, महिला और पुरुष मछली विक्रेता कितने हैं सवाल पूछे गए हैं. 

गुरु गोविंद सिंह जयंती पर रेलवे ने पटना साहिब स्टेशन पर बढ़ाए ट्रेनों के स्टोपेज

बता दें कि यह फैसला खुले में मछली बेचने के कारण होने वाली गंदगी को रोकने का लिए यह लिया गया है. जिला मतस्य पदाधिकारी मनीष श्रीवास्तव का कहना है कि मछली मार्केट के पास गंदगी बिखरी रहती है. यह गंदगी बड़ा टब न होने के कारण होती है. 

अन्य खबरें