इंदौर जू में जल्द नजर आएंगे नए अफ्रीकन मेहमान, इजराइल से भारत तक का करेंगे सफर

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Jul 2021, 6:51 AM IST
इंदाैर जू में जल्द ही नए मेहमान दिखाई देने वाले हैं. जी हां, कुछ महीनाें में इंदाैर जू में अफ्रीकन जेब्रा देखने को मिलेंगे, जो इजराइल से पहले मुंबई जू आएंगे और इसके बाद इसे इंदौर जू लाया जाएगा. बता दें कि प्रदेश के अब तक किसी भी जू में अफ्रीकन जेब्रा का जोड़ा नहीं है.
इंदौर जू में जल्द नजर आएंगे अफ्रीकन जेब्रा

इंदौर के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी हैं. दरअसल, प्रेदश के लोग अब कुछ महीनों में इंदौर जू में नए मेहमानों यानी अफ्रीकन जेब्रा को देख पाएंगे. खास बात ये हैं कि प्रदेश में अब तक किसी भी जू में अफ्रीकन जेब्रा नहीं है. साछ ही बताया जा रहा है कि ये जेब्रा इजराइल से एनिमल एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत लाए जा रहे हैं, जो पहले मुंबई वीरमाता जीजाबाई भोसले जू ले जाया जाएगा और फिर इसके बाद उन्हें इंदौर जू लाया जाएगाय फिलहाल कोरोना के चलते इस पूरी प्रक्रिया में कुछ और महीनों का समय लग सकता है. 

वहीं इस बारे में बात करते हुए इंदौर जू प्रभारी डॉक्टर उत्तम यादव बताते हैं कि कोरोना के चलते अभी सभी तरह की गतिविधियों को रोक दिया गया है, लेकिन जेब्रा को इंदौर जू में लाने की तैयारियां चल रही हैं. साथ ही वो बताते हैं कि जेब्रा के जोड़े के लिए बाड़ा बनाने का काम भी चलया जा रहा है. हालांकि इन्हें यहां लाने के लिए सेंट्रल जू अथॉरिटी की अनुमति से लगेगी. इसके अलावा जू अथॉरिटी की बैठक होने के बाद इस काम में तेजी लाई जा सकती है. 

अब इंदौर को भी मिलने जा रहा है नाइट सफारी का आनंद, तैयारियों में जुटा प्रशासन

इसके अलावा वो बताते हैं कि जेब्रा को इंदौर जू लाने में अभी दो से तीन महीने का समय लग सकता है. बता दें कि डॉक्टर यादव बताते हैं कि अभी चिड़ियाघर में साढ़े 600 से ज्यादा अलग-अलग जीव जंतु देखने को मिलेंगे. हाथी मोती के साथ ही 11 लॉयन हैं. वहीं अगर प्रजाति की बात करें तो यहां पर 60 से ज्यादा तरह की प्रजाति पाई जाती हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि इन जेब्रा की औसत आयु करीब 19 से 20 साल होती है.

IIT इंदौर के छात्र ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर मांगी पीएचडी की डिग्री

अन्य खबरें