बिहार की 2948 पंचायतों में पहली बार 10वीं की क्लास, पिछले साल 9वीं हुई थी शुरू

Smart News Team, Last updated: 10/06/2021 01:44 PM IST
  • राज्य की 2948 पंचायतों में इस साल के शैक्षिक सत्र 2021-22 से पहली बार दसवीं कक्षा की पढ़ाई शुरू होगी. इन पंचायतों में 9 वीं से 12 वीं तक की पढ़ाई नहीं कराई जाती थी लेकिन 2021-22 से राज्य सरकार ने प्रदेश की सभी पंचायतों में प्लसटू तक की शिक्षा उपलब्ध कराने का नीतिगत निर्णय लिया है. 
बिहार की पंचायतों में लगेगी 10वीं के छात्रों की क्लासें.

पटना. बिहार की 2948 पंचायतों में इस साल के शैक्षिक सत्र 2021-22 से पहली बार दसवीं कक्षा की पढ़ाई शुरू कराई जाएगी. इन पंचायतों में शुरुआत तक 9 वीं से 12 वीं तक की पढ़ाई नहीं कराई जाती थी लेकिन 2021-22 से राज्य सरकार ने प्रदेश की सभी पंचायतों में प्लसटू तक की शिक्षा उपलब्ध कराने का नीतिगत निर्णय लिया है. बता दें कि कोरोना संक्रमण के बावजूद पिछले साल ही इन पंचायतों के कुछ मध्य विद्यालय में 9 वीं की पढ़ाई आरंभ की गई थी. अब पिछले साल 9 वीं में रहे विद्यार्थी दसवीं कक्षा में चले गए हैं तो शिक्षा विभाग ने इन सभी 2948 पंचायतों में इसी सत्र से दसवीं की कक्षा आरंभ करने का आदेशजारी किया है.

राज्य के शिक्षा विभाग ने इन नई कक्षाओं की पढ़ाई के लिए शिक्षकों की व्यवस्था जारी करने का भी निर्देश दिया है. चूंकि इसी सत्र से ही प्लस टू कक्षाएं शुरू की जा रही हैं तो उन्हें पढ़ाने के लिए शिक्षकों की संख्या भी अधिक होनी चाहिए. साथ ही शिक्षा विभाग ने अपने आदेश में यह भी कहा कि इन 2948 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में वर्ग 9-10वीं व कक्षा 11-12 वीं के लिए जब तक शिक्षकों की पदस्थापन नहीं होती तब तक आवश्यकतानुसार प्रतिनियोजन के माध्यम से अपेक्षित योग्यताधारी शिक्षक की व्यवस्था संबंधित डीईओ के द्वारा की जाएगी. 

पटना में वट सावित्री पूजा करने जा रही महिला का चेन छीना, लुटेरे CCTV में कैद 

पटना. बिहार की 2948 पंचायतों में इस साल के शैक्षिक सत्र 2021-22 से पहली बार दसवीं कक्षा की पढ़ाई शुरू कराई जाएगी. इन पंचायतों में शुरुआत तक 9 वीं से 12 वीं तक की पढ़ाई नहीं कराई जाती थी लेकिन 2021-22 से राज्य सरकार ने प्रदेश की सभी पंचायतों में प्लसटू तक की शिक्षा उपलब्ध कराने का नीतिगत निर्णय लिया है. बता दें कि कोरोना संक्रमण के बावजूद पिछले साल ही इन पंचायतों के कुछ मध्य विद्यालय में 9 वीं की पढ़ाई आरंभ की गई थी. अब पिछले साल 9 वीं में रहे विद्यार्थी दसवीं कक्षा में चले गए हैं तो शिक्षा विभाग ने इन सभी 2948 पंचायतों में इसी सत्र से दसवीं की कक्षा आरंभ करने का आदेशजारी किया है.

राज्य के शिक्षा विभाग ने इन नई कक्षाओं की पढ़ाई के लिए शिक्षकों की व्यवस्था जारी करने का भी निर्देश दिया है. चूंकि इसी सत्र से ही प्लस टू कक्षाएं शुरू की जा रही हैं तो उन्हें पढ़ाने के लिए शिक्षकों की संख्या भी अधिक होनी चाहिए. साथ ही शिक्षा विभाग ने अपने आदेश में यह भी कहा कि इन 2948 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में वर्ग 9-10वीं व कक्षा 11-12 वीं के लिए जब तक शिक्षकों की पदस्थापन नहीं होती तब तक आवश्यकतानुसार प्रतिनियोजन के माध्यम से अपेक्षित योग्यताधारी शिक्षक की व्यवस्था संबंधित डीईओ के द्वारा की जाएगी. 

पटना में वट सावित्री पूजा करने जा रही महिला का चेन छीना, लुटेरे CCTV में कैद 

|#+|

शिक्षा विभाग के उप सचिव अरशद फिरोज ने जारी आदेश में कहा है कि जिन पंचायतों में उच्च माध्यमिक विद्यालय की स्थापना के क्रम में जिन चिन्नित विद्यालयों में 9वीं की पढ़ाई शैक्षणिक स्तर 2020-2021 में प्रारंभ की गई थी उन मध्य विद्यालयों में आधारभूत संरचना कर क्रमिक रूप से 10,11 और 12वीं की पढ़ाई शुरू की जाएगी. इस साल से विद्यालयों में शैक्षणिक सत्र में 10वीं कक्षा की पढ़ाई शुरू कराई जाए. उन्होंने आदेश में यह भी कहा है कि भूमि के अभाव की स्थिति में आधारभूत संरचना के निर्माण हेतु चिह्नित मध्य विद्यालय का लंबवत विस्तार किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें