नोटों की गड्डियां देख विजिलेंस अधिकारी हैरान! भ्रष्ट अफसर के 3 ठिकानों पर छापे

Smart News Team, Last updated: Fri, 17th Dec 2021, 1:55 PM IST
  • बिहार के एक और भ्रष्ट अफसर के खिलाफ सुबह आठ बजे यानि मणि रंजन के मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर और पटना स्थित तीनों ठिकानों पर विजिलेस की अलग-अलग टीमों ने एक साथ छापा मारा है. आय से अधिक संपत्ति केस में निबंधन विभाग के एक अफसर के ठिकानों पर विशेष निगरानी इकाई छापेमारी कर रही है. बताया जा रहा है कि छापेमारी में सब रजिस्‍ट्रार के घर से बड़ी मात्रा में कैश मिला है. नोटों की गड्डियां देखकर विजिलेंस अधिकारी भी हैरान हैं.
नोटों की गड्डियां देखकर विजिलेंस अधिकारी भी हैरान! तीन ठिकानों पर एकसाथ छापा मारा

बिहार (समस्तीपुर). समस्तीपुर के सब रजिस्‍ट्रार मणि रंजन के मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर और पटना स्थित तीन ठिकानों पर विजिलेस की अलग-अलग टीमों ने एक साथ छापा मारा है. आय से अधिक सम्‍पत्ति के आरोप में की गई इस छापामारी में आर्थिक अपराध इकाई और निगरानी अन्वेषण की एसयूवी टीम शामिल है. अलग-अलग टीमें सुबह आठ बजे एक साथ तीनों जिलों में स्थित सब रजिस्‍ट्रार के ठिकानों पर पहुंचीं. 

मणि रंजन, वर्तमान में समस्तीपुर जिले के निबंधन कार्यालय में तैनात हैं. पटना और मुजफ्फरपुर में भी उनके आवास हैं. बताया जा रहा है कि छापेमारी में सब रजिस्‍ट्रार के घर से बड़ी मात्रा में कैश मिला है. नोटों की गड्डियां देखकर विजिलेंस अधिकारी भी हैरान हैं.

शराबबंदी जैसे मुद्दों को लेकर 22 दिसंबर को 'समाज सुधार यात्रा' पर निकलेंगे CM नीतीश, मोतिहारी से शुरुआत

मुजफ्फरपुर के अहियापुर थाना क्षेत्र के कोल्हुआ स्थित आवास पर छह सदस्यीय टीम छापेमारी कर रही है. हालांकि घर में कौन है और नहीं है इसकी जानकारी अभी नहीं हो सकी है. छापामारी के दौरान घर के आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. बिहार एसटीएफ के जवानों को घर के बाहर तैनात किया गया है. किसी को भी घर के अंदर और घर से बाहर जाने देने की इजाजत नहीं है. सूत्रों का कहना है छापा खत्म होने के बाद ही इससे सम्‍बन्धित पूरी सार्वजनिक की जाएगी.

छापामार टीम के सदस्य कुछ भी बताने से इनकार कर रहें हैं. बता दें कि 16 दिसम्बर को पटना के निगरानी थाना में मणि रंजन के खिलाफ आय से अधिक मामले को लेकर केस दर्ज किया गया था. पटना स्थित निगरानी की विशेष कोर्ट के सर्च वारंट के आधार पर यह छापेमारी की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें