पटना में कर्फ्यू में पुलिस पर आरोप, ठेकेदार से लिए 5000 रु और रसीद दी 2000 की

Smart News Team, Last updated: 03/05/2021 01:39 PM IST
  • नाइट कर्फ्यू के दौरान पुलिस पर वसूली करने का आरोप लगा है. पुलिस ने जुर्माने के नाम पर 5 हजार रुपए तो ले लिए मगर रसीद 2 हजार रुपए की ही दी.
नाइट कर्फ्यू के दौरान पुलिस पर वसूली का आरोप

पटना: कोरोना संक्रमण के कारण लगाए गए नाइट कर्फ्यू के दौरान पुलिस पर वसूली करने का आरोप लगा है. एक ठेकेदार का आरोप है कि जब वो नाइट कर्फ्यू में अपने परिवार के किसी सदस्य को एयरपोर्ट से लेने जा रहा था तभी पुलिस ने उसे रोका. पुलिस ने ठेकेदार पर 5 हजार रुपए का जुर्माना भरने का दबाव बनाया. पुलिस ने 5 हजार रुपए तो ले लिए मगर रसीद 2 हजार रुपए की ही दी.

दरअसल मामला शनिवार रात का है जब शरीफ कॉलोनी में रहने वाले ठेकेदार मो. मिनतुल्लाह बड़े भाई की बेटी को एयरपोर्ट से रिसीव करने गए थे. फ्लाइट लेट होने की वजह से वो भतीजी को लेकर पहले अनीसाबाद अपने भाई के यहां गए, फिर अपने घर लौटते वक्त पुलिस ने उन्हें कोतवाली टी प्वाइंट पर रोका.

रेमडेसिविर की कालाबाजारी रोकने को प्रशासन आवंटन की सूची करेगा सार्वजनिक

ठेकेदार का दावा है कि उसने अपनी भतीजी के फ्लाइट का टिकट पुलिसकर्मियों को दिखाया लेकिन उन्होंने नहीं सुना. फिर पुलिसकर्मियों ने 5 हजार रुपए फाइन भरने के लिए धमकाया.

बिहार: मई के लिए 16 लाख कोरोना टीकों का कोटा तय, स्वास्थ्य मंत्री ने दी जानकारी

इस सबके बावजूद ठेकेदार ने पूरे 5 हजार रुपए जुर्माना भरा लेकिन पुलिसकर्मियों ने उन्हें केवल 2 हजार रुपए की ही रसीद दी. फिलहाल इस पूरे मामले की जानकारी पटना के ट्रैफिक एसपी अमरकेश दारपीनेनी को दी गई. उन्होंने मामले की जांच कराने की बात कही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें