आवास पर हमले के बाद तेजप्रताप यादव ने अमित शाह और DGP को लिखा पत्र, मांगी Y सुरक्षा

Swati Gautam, Last updated: Mon, 14th Feb 2022, 10:37 PM IST
  • आरजेडी विधायक तेजप्रताप यादव के सरकारी आवास पर रविवार को कुछ लोगों ने हमला कर तेजप्रताप को जान से मारने की धमकी थी. जिसके बाद तेजप्रताप यादव ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को पत्र लिखकर अपने लिए Y श्रेणी की सुरक्षा की मांग की है.
तेजप्रताप यादव (file photo)

पटना. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू यादव के बड़े बेटे और पार्टी के विधायक तेजप्रताप यादव ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को पत्र लिखकर अपने लिए Y श्रेणी की सुरक्षा की मांग की है. तेजप्रताप यादव ने कहा है कि 13 फरवरी को मेरे आवास पर कुछ असामाजिक तत्वों ने हंगामा करते हुए मुझे जान से मारने की धमकी भी दी थी. अपनी जान का खतरा होने के चलते उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री और डीजीपी से Y श्रेणी की सुरक्षा की मांग की है.

केंद्रीय गृह मंत्री को लिखे आधिकारिक पत्र में तेज प्रताप यादव ने लिखा है कि मैं समय-समय पर नक्सली क्षेत्र में जन समस्याओं के समाधान के लिए जाता रहा हूं. रोजाना हजारों लोगों से मिलता हूं. इसके अलावा उन्होंने लिखा कि 13 फरवरी को मेरे आवास पर कुछ असामाजिक तत्वों ने हंगामा करते हुए मुझे जान से मारने की धमकी भी दी थी. लिहाजा मुझे वाय श्रेणी की सुरक्षा प्रदान करने के लिए बिहार सरकार को आदेशित किया जाये. उन्होंने गृह मंत्री को लिखा है कि मैं बिहार राज्य का कैबिनेट मंत्री भी रह चुका हूं.

तेज प्रताप के आवास पर मारपीट व हंगामा, जान से मारने की मिली धमकी, जानें मामला

क्या था मामला

सचिवालय थाना क्षेत्र स्थित स्टैंड रोड 2एम तेज प्रताप यादव के आवास पर रविवार शाम करीब साढ़े छह बजे 10 से 15 की संख्या में कुछ असामाजिक तत्वों ने जमकर हंगामा किया. विरोध करने पर युवा राजद के उपाध्यक्ष सृजन स्वराज के साथ उन युवकों ने बदसलूकी की और बीएमपी की जवानों से भी भीड़ गए. इस दौरान अज्ञात युवकों ने तेजप्रतापाप यादव जान से मारने की धमकी दी. सूचना के बाद जब तक पुलिस मौके पर पहुंची, आरोपित भाग चुके थे. युवा राजद उपाध्यक्ष की ओर से आरोपितों के खिलाफ सचिवालय थाने में आवेदन दिया गया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें