बेरहम पिता की करतूत! बेटे के बाद बेटी को गंगा में फेंकने चला, लोगों का दिल पसीजा

Smart News Team, Last updated: 18/10/2020 11:56 AM IST
  • पटना में एक बेरहम पिता अपने मासूम बेटे से गुस्सा होकर उसे गंगा में फेंक दिया. इसके बाद मासूम बेटी को भी गंगा में फेंकने जा रहा था. वहां पर मौजूद लोगों ने दोनों मासूमों की जान बचा ली.
एक बेरहम पिता अपने मासूम बेटी और बेटे से मामूली सी बात पर गुस्सा होकर उनकी जान लेनी की कोशिश की.

पटना. पटना में एक बेरहम पिता अपने मासूम बेटी और बेटे से मामूली सी बात पर गुस्सा होकर उनकी जान लेनी की कोशिश की. पटना के दीघा थाना क्षेत्र में बेटे और बेटी द्वारा अखबार नहीं पढ़ने और दंड-बैठक नहीं करने पर पिता इतना ज्यादा गुस्सा गया कि 83 नंबर घाट पर पहले बेटे को गंगा में फेंका फिर बेटी को भी गंगा में फेंकने की तैयारी कर रहा था, उससे पहले वहां लोगों ने देख लिया और उसे पकड़ लिया. लोगों ने दोनों मासूम बच्चों की जान भी बचा ली.

लोगों ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी. मौके पर पुलिस पहुंची. पुलिस ने पिता और उनके दोनों बच्चों को थाने ले गई. पुलिस ने बताया कि युवक शत्रुघ्नन पांडेय लक्ष्मी नगर का निवासी है. उसे कड़ी फटकार लगाने के बाद बांड भरवाकर छोड़ दिया गया है. पुलिस ने पिता को सख्त चेतावानी दी कि अगर दोबारा ऐसी गलती की उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

बिहार चुनाव: JDU का तंज, चिराग ऐसे कलयुगी हनुमान जो राम को नहीं मानते

दीघा थाना के थानेदार मनोज ने बताया कि शत्रुघ्नन पांडेय ने अपने सात साल के बेटे को हर दिन अखबार पढ़ने और 25 बार दंड-बैठक करने को कहा था. शनिवार के दिन बेटे ने अखबार नहीं पढ़ा और न ही दंड-बैठक की. 

BJP बागी नेता सुषमा साहू का नामांकन रद्द, कहा-सत्ता के खिलाफ होने की सजा मिली

जानकारी के मुताबिक, शत्रुघ्नन रात भर काम करने के बाद जब घर लौटा तो बेटे से इसके बारे में पूछा तो उसने झूठ बोल दिया था. कुछ देर बाद शत्रुघ्नन को पता चल गया कि बेटे ने झूठ बोला है. इस बात पर वह गुस्सा गया और बेटे की बेरहमी से पिटाई कर दी. इसके बाद शत्रुघ्नन पांडेय बेटे और डेढ़ साल की बेटी को बाइक से गंगा में फेंकने के लिए निकल दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें