बिहार चुनाव: सुरक्षा के मद्देनजर बेऊर जेल से कई कैदी दूसरी जेलों में ट्रांसफर

Smart News Team, Last updated: 17/10/2020 05:48 PM IST
  • विधान सभा चुनाव की सुरक्षा को देखते हुए बेऊर कारा जेल से दो अपराधियों को अररिया सेंट्रल जेल में स्थानांतरित किया गया है. इस कदम का साथ जेल प्रशासन ने चुनाव सुरक्षा को देखते हुए किया है.
बिहार चुनाव के मद्देनजर बेऊर जेल के कैदियों का ट्रांस्फर किया जा रहा है 

पटना.राजधानी की जेल बेऊर कारा से दो अपराधियों को केंद्रीय मंडल कारा जेल अररिया में ट्रांसफर की खबर सामने आई है. दोनों अपराधी नाटा और अरविंद कश्यप है जिनको बेउर जेल में कुख्यात अपराधियों के रूप में रखा जा रहा था. ये ऐसे अपराधी है जो वारदातों को जेल में रहकर भी अंजाम दिलवा सकते हैं. जिनका अब अररिया सेंट्रल जेल में ट्रांसफर कर दिया गया है. जानकारी के अनुसार राजधानी में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्वक तरीके से हो सके इसके लिए शनिवार को दोनों अपराधियों को कारा जेल से अररिया सेंट्रल जेल भेज दिया गया है.

दोनों कुख्यात अपराधियों में अरविंद कश्यप का निवास स्थान खगोल में है वही नाटा का निवास स्थान पटना सिटी में है. आशंका जताई जा रही थी कि ये दोनों अपराधी आने वाले विधानसभा चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं. विधान सभा चुनाव शांतिपूर्वक तरीके से संपन्न हो सके इसके लिए जिला प्रशासन ने जेल प्रशासन को रिपोर्ट दी थी कि इन दोनों कुख्यात अपराधियों को अररिया सेंट्रल जेल में भेजा जाए. जेल प्रशासन ने विधानसभा चुनाव में सुरक्षा को देखते हुए जिला प्रशासन की बात पर यह कदम उठाया.

बिहार चुनाव की तैयारियां तेज, बीजेपी ने लॉन्च किया ‘मोदी लहर’और ई-कमल

हाल ही में कुछ समय पहले बेउर जेल के 13 कुख्यात अपराधियों को अन्य किसी जेल में भेजने पर कार्रवाई की गई थी जिसके बाद इन दो कुख्यात अपराधियों को भी अन्य जेल में भेजने का प्रस्ताव दिया गया. एक जेल से दूसरे जेल में अपराधियों को शिफ्ट करने का प्रस्ताव डीएम को भेजा जाता है. प्रस्ताव पर मंजूरी मिल जाने के बाद ही कैदी को दूसरे कारागार में भेजा जाता है. दोनों अपराधियों के केस में प्रस्ताव पर डीएम की मंजूरी मिल चुकी है अब अपराधियों को अररिया सेंट्रल जेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा. विधानसभा चुनाव में कई बिल्डिंग और बूथ पर सुरक्षा के अनेक इंतजाम किए जाएंगे साथ ही हर बूथ पर सेंट्रल आर्म्ड फोर्स के जवान भी तैनात किए जाते हैं ऐसे में कोई घटना ना घटे उसके लिए जिला और जेल प्रशासन दोनों का यह कदम सुरक्षा को और मजबूत बनाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें