Bihar Teacher Recruitment: TET और CTET प्रमाण पत्रों के आधार पर मिलेंगे नियुक्ति पत्र

Haimendra Singh, Last updated: Tue, 15th Feb 2022, 8:15 AM IST
  • बिहार के प्रारंभिक स्कूलो के 94000 पदों पर चयनित उम्मीदवारों को टेट और सीटीईटी प्रमाण पत्रों की जांच के बाद नियुक्ति पत्र दिया जा सकता है. सोमवार को भर्ती को लेकर हुए बैठक में शिक्षा सचिव और प्राथमिक निदेशक ने सभी डीईओ तैयारी पूरी करने के निर्देश दिए है.
बिहार 94000 हजार शिक्षक भर्ती. ( प्रतीकात्मक फोटो )

पटना. बिहार के युवाओं के लिए खुशी की खबर है. राज्य के प्रारंभिक स्कूलों में 94 हजार शिक्षकों के पदों पर भर्ती की प्रकिया तेज हो गई है. शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) और सेंट्रल शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) के प्रमाण पत्रों के सत्यापन के बाद चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र मिल जाएगा. शिक्षा मंत्री की मंजूरी के बाद चयनित अभ्यर्थियों के पात्रता प्रणाम पत्र का जांच होगी और सही पाए जाने पर 25 फरवरी से पहले नियुक्ति पर दिया जाएगा. शिक्षा सचिव और प्राथमिक निदेशक ने बैठक में सभी डीईओ को पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया है.

सोमवार को सचिव असंगबा चुबा आओ की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक हुई. मीटिंग में शिक्षकों भर्ती से लेकर बातों पर चर्चा हुए और बताया कि राज्य के सभी जिला मुख्यालयों को निर्देश था कि 12 फरवरी तक सभी पात्रता प्रमाण पत्रों की जांच पूरी करके रिपोर्ट राज्य मुख्यालय को भेजनी थी. पहली बार में 43 हजार चयनित का सत्यापन होना था. मिली जानकारी के अनुसार, 43 हजार अभ्यर्थियों के जांच में 95 फीसदी सत्यापन पूरा हो चुका है, वहीं बचे 5 फीसदी जांच को भी जल्द पूरा करने का निर्देश दिया गया है. मंगलवार को शिक्षा मंत्री पात्रता प्रमाण पत्र के आधार नियुक्ति पत्र बांटने का फैसला ले सकते हैं.

बिहार बोर्ड ने शुरू की मूल्यांकन की तैयारी, जल्द आएगा 10वीं-12वीं का रिजल्ट

43 हजार अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्रों का होगा सत्यापन

43 हजार चयनितों के शैक्षणिक, शैक्षणिक प्रमाण पत्रों की जांच की असंतोषजनक स्थिति सामने आई. नियुक्ति के बाद इसकी जांच के लिए कुछ और समय दिया जाएगा. संभव है कि शिक्षा विभाग यह जांच अपने हाथ में ले ले और मुख्यालय स्तर से ही देशभर के राज्यों से संबंधित डिग्रियों की जांच कराई जाए. सभी डीईओ को यह भी निर्देश दिया गया कि फर्जी प्रमाण पत्र वाले एक भी अभ्यर्थी की नियुक्ति नहीं होगी.

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा, टेट-सीटेट प्रमाण पत्रों की जांच प्राय: पूरी हो चुकी है. प्रशिक्षण प्रमाण पत्र की जांच संतोषजनक नहीं है. सरकार और शिक्षा विभाग अंतिम रूप से चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र समय पर देने को प्रतिबद्ध है. इसलिए टेट-सीटेट के आधार पर नियुक्ति पत्र देने पर विचार चल रहा है, हम जल्द निर्णय लेंगे. नियुक्ति पत्र बांटने की तारीख भी शीघ्र तय करेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें