बिहार चुनाव: LJP की मीटिंग के बाद NDA कर सकता है सीट बंटवारे का ऐलान

Smart News Team, Last updated: 03/10/2020 04:41 PM IST
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए एनडीए की सहयोगियों पार्टियों के बीच सीटों के लिए खींचतान जारी है. कहा जा रहा है शाम की लोजपा की मीटिंग के बाद एनडीए बिहार चुनाव के लिए सीटों की घोषणा कर देगा.
शनिवार को 5 बजे लोजपा की मीटिंग के बाद एनडीए सीटों का ऐलान कर सकती है.

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तारीखों के ऐलान के बाद बीजेपी और जदयू के अगुवाई वाले एनडीए में सीट को लेकर खींचतान जारी है. बिहार भाजपा प्रभारी देवेन्द्र फडणनवीस और सांसद भूपेन्द्र यादव शनिवार को दिल्ली से लौट आए हैं. माना जा रहा है कि शाम की लोजपा की 5 बजे की मीटिंग के बाद एनडीए सीटों की घोषणा करेगा.

लोजपा, जदयू और भाजपा के बीच बिहार में सीट के बंटवारे पर बात नहीं बनी. जिसके बाद शुक्रवार को बिहार भाजपा प्रभारी देवेन्द्र फडणवीस और भूपेन्द्र यादव दिल्ली लौट गए थे. जहां उन्होंने सीट फार्मूले पर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह से सलाह ली. जिसके बाद शनिवार को दोनों नेता पटना लौट आए. माना जा रहा है कि आज शाम 5 बजे लोजपा की मीटिंग के बाद एनडीए बीजेपी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात करेगी. जिसके बाद देर शाम में एनडीए बिहार विधानसभा चुनाव के लिए सीटों की घोषणा करेगा.

बिहार: LJP, JDU की सीटों पर खींचतान के बीच BJP के भूपेंद्र, देवेंद्र दिल्ली लौटे

मिली जानकारी के मुताबिक एनडीए की आखिरी दौर की मीटिंग में बिहार भाजपा प्रभारी देवेन्द्र फडणवीस, भूपेन्द्र यादव और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार होंगे. बीजेपी के एक नेता ने कहा कि शाम तक इंतजार कीजिए, सब कुछ साफ हो जाएगा. वहीं जेडीयू की मानें तो एनडीए के सहयोगियों पार्टियों में सीट को लेकर तकरारा तेज हो गई है. ज्यादातर सीट पर बात बन चुकी हैं लेकिन कुछ सीटों पर असंमजस बना हुआ है.

बिहार चुनाव से पहले कुख्यात जटहा और उज्जवल को भागलपुर जेल में किया शिफ्ट

कहा जा रहा है कि लोजपा तेवर में दिखाई दे रही है. लोजपा ने कुछ ऐसी सीटों की मांग की है जो बीजेपी और जदयू का गढ़ है. माना जा रहा है कि लोजपा की वजह से सीटों में रस्साकस्सी और ज्यादा बढ़ गई है. जदयू ने कहा कि अब बीजेपी को तय करना है कि वो लोजपा को कितनी सीटें देना चाहती है. सूत्रों की मानें बीजेपी-जेडीयू के बीच सीटों का बंटवारा हो चुका है लेकिन लोजपा ने अपनी पसंद की सीटों को मांगकर थोड़ा पेचीदा कर दिया है. शनिवार की मीटिंग के बाद सब कुछ साफ होने की संभावना जताई जा रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें