बिहार चुनाव: पटना बाढ़ विधानसभा सीट पर कांग्रेस और बीजेपी में होगी सीधी टक्कर

Smart News Team, Last updated: Tue, 27th Oct 2020, 8:24 PM IST
  • बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में पटना जिले की बाढ़ विधानसभा सीट पर बीजेपी और कांग्रेस आमने सामने है. भाजपा के ज्ञानेंद्र सिंह पिछले तीन बार से इस सीट पर जीत हासिल करते हुए आ रहे हैं. 
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में बाढ़ विधानसभा सीट पर भाजपा और कांग्रेस में सीधी टक्कर होने जा रही है.

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के पहले फेज का मतदान 28 अक्टूबर को होगा. पटना जिले की बाढ़ विधानसभा सीट पर तीन चुनावों से ज्ञानेंद्र सिंह का कब्जा कायम है. विधानसभा चुनाव 2015 में बीजेपी के टिकट से ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने जेडीयू के मनोज कुमार को 8 हजार वोटों से हराकर जीत हासिल की थी. 

बिहार चुनाव 2020 में भी भाजपा ने ज्ञानेंद्र सिंह पर ही दांव लगाया है. ज्ञानेंद्र सिंह को टक्कर देने के लिए कांग्रेस के सत्येंद्र बहादुर चुनावी मैदान में हैं. वहीं रालोसपा से राकेश सिंह विधानसभा चुनाव में अपनी किस्मत पर बाजी लगा रहे हैं. जाप के श्यामदेव भी चुनावी रण में हैं.

पटना जिले की बाढ़ विधानसभा सीट के राजनीतिक इतिहास को देखा जाए तो इस सीट से पिछले तीन चुनावों में ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने अपना दबदबा बनाया हुआ है. बिहार चुनाव 2015 में उन्होनें बीजेपी के चुनाव चिन्ह पर जीत हासिल की थी लेकिन 2005 और 2010 में जेडीयू के प्रत्याशी के तौर पर वह विधानसभा चुनाव जीते थे.  

बिहार चुनाव: मसौढ़ी सीट पर JDU और RJD के बीच होगी टक्कर, जानें कौन किस पर भारी?

जेडीयू की लवली आनंद इस सीट से 2005 में विधायक चुनी गईं थीं लेकिन कुछ महीनों बाद हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया. वहीं कांग्रेस इस सीट से 1985 में आखिरी बार चुनाव जीती थी. बीजेपी को 2015 में पहली बार बाढ़ सीट पर जीत हासिल हुई थी. 

बिहार चुनाव: पटना की बिक्रम विधानसभा सीट पर कौन किस पर भारी?

चुनावी समीकरण देखें तो बाढ़ विधानसभा सीट पर राजपूत, पासवान, यादवों का बहुमत है. वहीं ब्राह्मण, मुस्लिम और रविदास समुदाय की संख्या भी अच्छी है. 28 अक्टूबर को 2.76 लाख मतदाता उम्मीदवारों के पक्ष में वोट डालेंगे. जिसमें से 1.45 लाख पुरुष और 1.29 लाख महिला मतदाता हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें