गुप्तेश्वर पांडेय ने नहीं खोले सियासी पत्ते, कहा- 14 सीटों से चुनाव लड़ने का ऑफर

Smart News Team, Last updated: 25/09/2020 07:34 AM IST
  • गुरुवार को बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पूरे दिन खबरों में छाए रहे. लेकिन उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर खुलकर कोई जवाब नहीं दिया. हालांकि अपनी बातों से इस बात का संकेत जरूर दिया.
गुप्तेश्वर पांडेय ने नहीं खोले सियासी पत्ते, कहा- 14 सीटों से चुनाव लड़ने का ऑफर है

पटना. बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय बिहार विधानसभा चुनाव से पहले वीआरएस लेकर चर्चा में आ गए हैं. रिटायरमेंट से सिर्फ पांच महीने पहले वीआरएस लेकर नौकरी छोड़ने को लेकर अब उनके सियासी पारी को लेकर भी अटकलें तेज हो गई हैं. लेकिन गुरुवार को भी गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने सियासी पत्ते नहीं खोले. गुप्तेश्वर पांडेय दिन भर मीडिया में छाए रहे. लेकिन किसी भी बातचीत में ना उन्होंने पार्टी का नाम बताया ना ही क्षेत्र का जहां से वह चुनाव लड़ सकते हैं. हालांकि, अपनी तमाम बातों में उन्होंने यह जरूर संकेत दिया कि वह आगामी विधानसभा चुनाव में उतरने जा रहे हैं.

बुधवार तक चुनाव लड़ने के सवाल पर पूर्व डीजीपी का जवाब था कि क्यों हमारे जैसे लोग राजनीति में नहीं आ सकते क्या? लेकिन गुरुवार को आज तक चैनल को इंटरव्यू में गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुझे 14 सीटों से चुनाव लड़ने का ऑफर है. 

नया नहीं अफसरों का चुनाव में उतरना, कोई मंत्री बना तो कोई जमानत तक नहीं बचा पाया

मैं हमेशा लोगों के बीच रहा हूं. चुनाव से मेरे वीआरएस को जोड़ना गलत है. अभी राजनीति में जाने का फैसला नहीं किया है. आप लोगों के सलाह के बाद ही इसका ऐलान करूंगा. उन्होंने आगे कहा कि मेरे खिलाफ रोज अफवाह उड़ायी जो रही थी. मुझे विवादित बनाने की कोशिश की गई ताकि चुनाव आयोग से शिकायत किया जा सके. आयोग मुझे हटा देता तो मेरी कितनी बेइज्जती होती. मेरा 34 साल का आईपीएस का करियर बेदाग रहा है. पर इस तरह का माहौल बनाने की पूरी कोशिश की गई कि मै किसी के पक्ष में खड़ा हूं.

वीआरएस नहीं लेता तो चुनाव आयोग DGP पद से हटाकर बेइज्जती करता: गुप्तेश्वर पांडेय

गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि पूरे बिहार में मुझे काफी प्यार मिला है. बक्सर का रहने वाला हूं वहां के लोगों का कर्ज मेरे माथे पर है. नौकरी में रहते जो हो सका किया. अब उनके कर्ज को भी उतारना है. बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय के बक्सर से चुनाव लड़ने की चर्चा जोरों पर है. उनके कर्ज उतारने वाले बयान को भी इसी से जोड़कर देखा जा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें