बिहार चुनाव में हेयर सैलूनों की मौज, मसाज और फेशियल से चेहरा चमकाने में लगे उम्मीदवार

Smart News Team, Last updated: 04/10/2020 08:40 PM IST
  • बिहार विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए उम्मीदवार फिट और स्माट दिखें इसके लिए वे फेशियल और स्पा का सहारा ले रहे हैं. नेता इसके लिए सैलून में दो से दस हजार रुपए तक खर्च कर रहे हैं.
बिहार विधानसभा चुनाव में नेता फिट और स्मार्ट दिखने के लिए हेयर सैलून का सहारा ले रहे हैं.

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों के बाद ज्यादातर पार्टियों ने अपनी सीटों का ऐलान कर दिया है. चुनाव प्रचार के लिए नेताओं को गांव-गांव जाकर लोगों से मिलना है. इस बार के चुनाव प्रचार लोगों को नेताओं का अलग ही लुक देखने का मिलेगा. प्रत्याशी चाहते हैं कि लोगों से मिलते समय उनका चेहरा अच्छी तरह से चमके. इसके लिए नेता फेशियल और ब्यूटी ट्रीटमेंट का सहारा ले रहे हैं. कोरोना के समय में अधिकतर नेता घर पर ही अपना फेशियल करवा रहे हैं. इससे सबसे ज्यादा फायदा सैलून वालों को हो रहा है. नेता इसके लिए वे दो से दस हजार रुपए तक खर्च कर रहे हैं.

बिहार विधानसभा चुनाव में जनता के बीच अपनी पैठ साबित करने के लिए नेताओं ने गांव-गांव जाना शुरू कर दिया है. अपने चेहरे की झुर्रियों और थकान को दूर करने के लिए राजनेता कई प्रकार के ब्यूटी ट्रीटमेंट का सहारा ले रहे हैं. इस मामले में पुरूष महिला नेत्री से किसी मामले में कम नहीं हैं. नेता खुद को फिट और स्मार्ट बनाए रखने के लिए खूब मेहनत कर रहे हैं.

चिराग की लोजपा का फैसला- नीतीश कुमार के नेतृत्व में नहीं लड़ेंगे बिहार चुनाव

ब्यूटीशियन अनामिका सिंह ने कहा कि अभी के समय में अधिकतर महिला नेत्रियां घर पर ही फेशियल और स्पा करवा रही हैं. उन्होंने बताया कि नेता घंटो गाड़ी में बैठकर गांव-गांव जाने से पहले और बाद में बॉडी स्पा करवा रहे हैं. महिला नेत्री फिट देखने के लिए स्क्रीन टायटनिंग, स्क्रीन ग्लोइंग, थर्मो, ओथ्री, क्लीनअप और स्पा का सहारा ले रही हैं. वहीं पुरूष नेता भी स्मार्ट दिखने के लिए स्क्रीन टैनिंग ट्रीटमेंट, थर्मो, बाल और बॉडी स्पा करवा रहे हैं.

बिहार कोविड-19 अपडेट: पटना में नहीं थम रहा कोरोना, मुजफ्फरपुर में ये हैं हालात

इसको लेकर ब्यूटिशियन मोनिका ने कहा कि नेत्रियां सबसे अधिक स्क्रीन टायनिंग कराने और स्क्रीन टैनिंग खत्म कराने के लिए ट्रीटमेंट का सहारा ले रही हैं. उन्होंने कहा कि नेता ट्रीटमेंट पर दो से दस हजार रुपए तक खर्च कर रहे हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें