बिहार चुनाव: महागठबंधन में पहले चरण की राजद-कांग्रेस-माले में 71 सीटें बंटी

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 01:10 PM IST
  • बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के पहले चरण के महागठबंधन में सीटों का बंटवारा हो गया है. 
बिहार चुनाव: महागठबंधन में पहले चरण की राजद-कांग्रेस-माले में 71 सीटें बंटी

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तारीखों के ऐलान के बाद राज्य में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं. रविवार को महागठबंधन ने बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए सीटों का बंटवारा हो गया है. राजद और कांग्रेस के बीच चार-पांच सीटों को छोड़कर ज्यादातर सीटों पर सहमति बन गई है. 

वहीं टेकारी, बांका, तारापुर, मोकामा की सीटें फंसी हुई है. इसपर राजद और कांग्रेस के बीच आज बैठक होगी. सीटों के बंटवारे होने के बाद राजद ने प्रत्याशियों को सिंबल देना शुरू कर दिया है. माले ने भी अपने प्रत्याशी कर लिए हैं. वहीं, कांग्रेस प्रत्याशियों की अंतिम सूची दिल्ली में तय करेगी. 

बिहार महागठबंधन डील: RJD 135 कांग्रेस 70 माले 19 CPI- CPM 10 VIP 9 सीट लड़ेगी !

बता दें कि बिहार में 71 विधानसभा सीटों पर पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर को होगा. 1 अक्टूबर से इन सीटों के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. कौन सी सीट किस दल के पास रहेगी, अभी इस पर मंथन पर होना बाकी है. माना जा रहा है कि चुनाव का पहला चरण राजद, कांग्रेस और माले तीनों के लिए महत्वपूर्ण है.

बिहार चुनाव : BJP- JDU में 50-50 सीटों पर बनी बात, LJP पर संदेह बरकरार

राजद कोटे की सीटें

जगदीशपुर, शाहपुर, बह्मपुर, रामगढ़, भभुआ, दिनारा, नोखा, डिहरी, जहानाबाद, इमामगंज, बोधगया (एससी), बेलागंज, अतरी, मसौढ़ी (एससी), संदेश, बराहरा, मुंगेर, बेलहर, बांका, सुल्तानगंज, कटोरिया (सुरक्षित), लखीसराय, बाढ़, नवादा, गोविंदपुर, जमुई, झांझा, ओबरा, गोह, टेकारी, मखदूमपुर (एससी), सूर्यगढ़ा, धौरैया (सुरक्षित), रजौली (एससी), गुरुआ, शेरघाटी, बाराचट्टी, मोकामा, चकाई.

कांग्रेस की सीटें

बक्सर, रफीगंज, सिकंदरा (एससी), मोहनिया (एससी), चैनपुर, चेनारी (एससी), सासाराम, कुर्था, बिक्रम, कहलगांव, बरबीघा, औरंगाबाद, कुटुंबा (एससी), गया टाउन, वजीरगंज, जमालपुर, हिसुआ, बारसलीगंज, अमरपुर, शेखपुरा, करगहर, तारापुर, नवीनगर.

माले की सीटें

अंगिआंव (सुरक्षित), तरारी, डुमरांव, काराकाट, अरवल, घोषी, पालीगंज, आरा, बलरामपुर.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें